दूनौ जघा पानी के समस्या

sakruhanचत्रकूट जिला के ब्लाकन मा अबै भी इनतान के गांव देखै का मिलत हवैं। जहां पानी के समस्या कइयौ बरस से बनी हवै। या समस्या कबै तक खतम होइ। यहिका पता नहीं लागत आय।

मानिकपुर ब्लाक, गांव सकरौंहा, दलित बस्ती। हिंया के रोहित अउर सम्पत समेत दस लोगन का कहब हवै-“आबादी लगभग तीन सौ हवै। हैण्डपम्प एक बरस से खराब हवै। या कारन सड़क पार कइके कुंआ से पानी लावैं का परत हवै। यहै से कत्तौ भी दुघर्टना होय का डेर बना रहत हवै। हमरे बच्चा पानी लें जात हवैं। उंई कुंआ मा गिर सकत हवै। काहे से कि कुंआ मा गलारी भी नहीं लाग आय।”
प्रधान सोनम का कहब हवै कि हैण्डपम्प बनावै खातिर मिस्त्री नहीं मिलत आय। मिस्त्री मिली तौ हैण्डपम्प बनवा देहूं।
यहिनतान हैण्डपम्प के दूसर खबर, जिला चित्रकूट, ब्लाक पहाड़ी, गांव जमहिल दलित बस्ती के हवै। हिंया के बदमिया, शिवपाल, सुधा अउर कुसमा का कहब हवै कि छह महीना से पानी के बहुतै समस्या हवै। पानी लें खातिर ठाकुरन के बस्ती जइत हन। हुंवा लाइन लगाये ठाढ़ रहित हन। या कारन समय लागत हवै। मजूरी करै अउर बच्चन का स्कूल जाये खातिर देर होइ जात हवै।
प्रधान बेसनिया देवी का कहब हवै कि सरकार कइती से नये हैण्डपम्प लगावैं का आदेश आई तौ लगावा दीन जई।