दु साल बाद भी न मिलल मजदुरी

मजदुर लक्ष्मी देवी और रिक्षिया देवी
मजदुर लक्ष्मी देवी और रिक्षिया देवी

जिला सीतामढ़ी, प्रखण्ड, पंचायत बथनाहा पष्चिमी, गांव ब्रहमपुरा टोला। इहां 2012 से 2013 में लगभग बीसो लोग्र वृक्षा रोपन में पानी पटवन अउर कमइनी के काम कयले छथिन। लेकिन उनका सब के आई तक मजदुरी न मिलल हई।

इहां के लक्ष्मी देवी, रिक्षिया देवी, रजु देवी, दिनेष पासवान लगभग बीसो लोग कहलथिन कि हमस ब बरा मेहन्त से ओतेक धुप धुप में पौधा में कमइनी कइली पानी पटइली। लेकिन तीन साल हो गेलई रूपइया न मिलल। मुखिया के कहइत रहली त कहइत रहलक मिलत लेकिन अब कहइ छथिन न मिलत। हमस ब छौ महीना काम कयले छी।
मुखिया षांति देवी के पति पंकज कुमार सिंह कहलथिन कि ओई समय मनरेगा के कार्यक्रम पदाधिकारी मास्टर रोल पर दस्तखत ही न कलथिन जई कारण उनका सब के मजदुरी न मिललई।

प्रखण्ड विकास पदाधिकारी जितेन्द्र कुमार सिंह कहलथिन कि हम एकाउण्टेन्ट से पता करवायब कि कोन कारण से उनका सब के मजदुरी न मिलल हई। अगर विभाग के ओर से कोई गरबड़ी होतई त ओकरा सुधार कर उनका मजदुरी जरुर देल जतई।