दिल्ली के चर्च में आग

      church  दिल्ली। यहां के उत्तर पूर्वी इलाके दिलशाद गार्डन स्थित कैथलिक चर्च में 3 दिसंबर की सुबह अचानक आग लगने से ईसाई समुदाय के लोग बहुत नाराज़ हैं। अंदर का हिस्सा जलकर खाक हो गया। करीब एक हज़ार लोगों ने आई.टी. ओ. स्थित पुलिस मुख्यालय पर घंटों जाम लगाये रख्रा। इनका कहना है कि यह घटना अचानक नहीं हुई। इसके पीछे एक विशेष संगठन के लोग हैं।
पुलिस प्रशासन ने इसकी जांच के लिए विशेष जांच दल का गठन किया है। पुलिस ने पहली नज़र में इस घटना को बिजली के शार्टसर्किट के कारण लगने वाली आग कहा था। इस चर्च के बिशप या पादरी अनिल कूटो ने साफ कहा कि आग खुद नहीं लगी, लगाई गई है। प्रदर्शन शातिपूर्ण था लेकिन लोगों ने अपने हाथों में नारे लिखी हुई तख्तियां ले रखी थीं।
प्रदर्शन में शमिल लोगों का कहना है कि जब वह चर्च पहुंचे तो वहां से डीज़ल और पेट्रोल की महक आ रही थी। उनका यह भी कहना है कि पुलिस को चर्च के कर्मचारियों ने लगातार फोन किया लेकिन पुलिस चार घंटे बाद वहां पहुंची। स्पेशल कमिश्नर आफ पुलिस दीपक मिश्रा ने लोगों को भरोसा दिलाया कि इस घटना की निष्पक्ष जांच की जाएगी। इसके अलावा पुलिस के देरी से पहुंचने के कारणों की भी जांच होगी।