दिन मा दसन दरकी लागत हवै जाम


taaza karvi trafficजिला चित्रकूट, ब्लाक कर्वी।
हिंया के लाखन मड़ई कइयौ बरस से परेशान हवैं। परेशानी का कारन हवै कर्वी शंकर बाजार के रेलवे क्रासिंग।
हिंया दस बरस से देखत होइगा कि जबै ट्रेन निकरै का होत हवै तौ आधा घन्टा पहिले रेलवे क्रासिंग बन्द कइ दीन जात हवैं। या कारन जाम लाग जात हवै। या जाम मा मड़ई एक घन्टा से लइके दुइ तीन घन्टा तक फंसे रहत हवै। निकरै के बादौ जाम नहीं खुलत आय। काहे से ठेला, बस, मोटर साइकिल, रिक्शा, ठेलिया अउर पैदल निकरै वाला मड़ई फंसे रहत हवैं। नौकरी वालेन का बहुतै परेशानी झेलै का परत हवै। क्रांिसंग के किनारे टाइल्स के दुकानदार कैलास का कहब हवै कि जबै तक हिंया पुल न बनी तबै तक यहै समस्या मड़इन का झेलै का परी। कइयौ बरस से सांसद अउर अधिकारी कहत हवंै, पै हिंया पुल नहीं बनत आय।
कर्वी कसहाई रोड के हीरालाल जाम मा फंसा रहै तौ वा बताइस वहिका रामनगर ड्यूटी जाये का हवै, पै सुबेरे आठ बजे से होइगा ग्यारह बजे जाम से निकर पाये हौं। रिक्शा मा बइठ छोट-छोट बच्चा चिल्लात रहैं कि हम स्कूल कब पहुंचबै। रिक्शा वाले गुस्सा मा उनका चुप करवा देत रहैं।
या मामला मा ट्राफिक पुलिस प्रदीप का कहब हवै कि हम का कइ सकित हन, हम तौ जाम हटवावै मा लाग रहित हन, पै जनता भी कुछ कम नहीं। हर कोऊ सोचत हवै कि हम जल्दी से निकर जई। यहै से मड़ई आपन वाहन बीच बीच मा फंसा देत हवैं।