दहेज खातिर मेहरारु का घर से निकारिन

जिला अम्बेडकर नगर, ब्लाक अकबरपुर, गांव बैरमपुर बरवां। हिंआ पांच लाख रुपया अउर कार कै मांग पूरी न हुवय से ससुराल वाले मेहरारु अउर चार साल बच्ची समेत घर से निकार दिहिन। महिला थाना मा दहेज उत्पीड़न कै केस दर्ज कराइन।
नीलम बताइन कि नइहर आजमगढ़ जिला के रामपुर कला वासूपुर गांव मा हुवय। बैरमपुर बरवां मा अप्रैल 2008 मा हेमन्त तिवारी के साथे षादी भै रहा। षादी के बाद से दहेज कै मांग करत रहिन। जब अपने नइहरे गयन तौ वकरे बाद से पांच लाख रुपया कै मांग करत हईन। ससुराल वाले कहैं कि पांच लाख रुपया लावा नाहीं तौ कार दिलावा। नीलम बताइन कि जब हम कहेन कि हम अपने पिता से यतना रुपया कै मांग न करब तबसे परिवार वाले मारब-पीटब शुरु कै दिहिन। जान से मारै कै धमकी भी दियाथिन। कइयौ दिन तौ खाना नाय खाय दियत रहिन। 29 जून 2014 का खूब मारिन अउर घर से निकार दिहिन। कहिन कि दुबारा अउबू तौ जान से मार दियब। यकै षिकायत पुलिस अधीक्षक से कइके न्याय कै गुहार लगाये हई।
महिला थाना कै एस.ओ. नीषा षुक्ला बताइन कि नीलम के तहरीर पै पति हेमन्त तिवारी, ससुर दिलीप कुमार, आरती तिवारी, देवी प्रसाद तिवारी, विमल कुमार शुक्ल के खिलाफ दहेज उत्पीड़न अउर मारै-पीटै, जान से मारै कै धमकी दियै के खिलाफ धारा अउर मुकदमा लाग बाय। आजमगढ़ जिला के पवई थाने मा मुकदमा कै विवेचना चलत बाय।