दहेज के कारण जान से मारे के आरोप

अस्पताल में गुडि़या
अस्पताल में गुडि़या

जिला सीतामढ़ी प्रखंड डुमरा, गांव कुमहरा विशनपुर। उहां के गुडि़या कुमारी के माइ के आरोप हई कि उनका बेटी के दहेज के कारण  उनकर सांस ससुर अउर पति गला में रस्सी के फंदा डाल के जान से मारे के कोशिश कयले रहथिन। गुडि़या 25 मार्च 2015 से सदर अस्पताल के मरजेंसी वार्ड में भरती छथिन।
गुडि़या कुमारी कहलथिन कि हमर शादी 11 मई 2014 के कोमरा विशनपुर गांव में योन्द्र राय के बेटा हर्श के साथ भेल। हमर मायेके समस्तीपुर जिला के कल्यानपुर प्रथम प्रखंड के विशरीपुर गांव में हइ। शादी करके गेली त चार महिना रहली ओइ समय भी सब प्रतारित करइत रहलक कि पसंद न हय। विजनेस करे के लेल पांच लाख रूपइया मायके से मांग के लावे के कहइत रहथिन। हम सब कुछ सह के रहइत रहली। अक्टूबर में मायके गेली तब से कोई फोन या सुचना न गेल तब मायके के लोग के कहली कि ससुरार पहुचा दु, हम उहे रहब। जब 24 मार्च 2015 के माता पिता अउर भाई के साथ अइली त ससुर देख के ही गेट बंद कर लेलक। हमर भइया जबरदस्ती गेट खोलवलक। हम घर में गेली अउर मायके के लोग वापस चल गेल। जब पति आयल त मार पिट अउर गाड़ी गलौज करे लागल। गला दबा के मारे ला कयलक। ओतने के बहन के फोन आयल त हमरा से फोन छीन लेलक शोर के आवाज सुनकर उनका सब के शक भेल अउर ससुरा आयल तब तक हमर स्थिति खराब रहे हम न जनली उहे लोग अस्पताल में लायल ससुराल वाला भाग गेल हय। गुडि़या के माय कहलथिन कि बेटी के न जाय देब न त मार देत। टाउन थाना अध्यक्ष विशाल अनंद कहलथिन कि बयान आयल हइ केश डुमरा थाना में भेलज जतइ उहे से कारवाइ कयल जतई।