दहेज कम मिलै का लइके मारपीट

sauta ganva mahila mudda photo copyजिला बांदा, ब्लाक महुआ, गांव सौंता। हेंया के ललिता का आरोप है कि वहिके ससुराल वाले देहज कम मिलै का बहाना कइके रोजै वहिके साथै मारपीट करत रहैं। या कारन वा एक साल से मइके मा रहत है अउर खाना खर्चा का मुकदमा लड़ैं का कहत है।
ललिता का कहब है कि मोर शादी महतारी बाप आपन हैसियत के हिसाब से खूबै दान दहेज दइके सन् 2012 मा तिन्दवारी ब्लाक के खौड़ा गांव मा भउवा साथै करिन रहै। यहिके बाद भी उंई दहेज लोभी ससुराल वालेन का पेट न भरा अउर शादी के बाद से ही दहेज कम मिलै का ताना दें लाग अउर मारपीट करैं लाग। कउनौतान तीन साल तक सहेव, पै जबै सावन के महीना मा मनसवा मार के हद पार कई दिहिस कि मोर हाथ तक टूट गा। तबै मैं मइके चली आयेव। अब हेंया महतारी बाप साथै कमात खात हौं अउर ससुराल वालेन से खाना खर्चा का मुकदमा लडैंचाहत हौं।
मनसवा भउवा का कहब है कि वा आपन मन से मइके गे है। वहिका कउनौ नहीं मारा आय। न दहेज के मांग कीन आय। अब वा मइके मा बइठ के मुकदमा से खाना खर्चा लें चाहत है।