दहशत के कारण डेढ़ हफ्ता बाद भी नाय खुला स्कूल

taza copyजिला फैजाबाद, ब्लाक पूराबाजार, गांव हैंसा, प्राथमिक विद्यालय। यहि विद्यालय मा 28 मार्च 2016 का दिन मा लगभग साढ़े ग्यारह बजे तीन बदमाश घुसिके ड्यूटी करत शिक्षिका अउर आंगनबाड़ी कै तमंचा के बल पै जेवर छीन लिहिन। जेकरे दहशत से डेढ़ हफ्ता बाद भी स्कूल मा ताला जड़ा बाय। शिक्षिका अंजू पांच सौ मीटर दूर एक दुकान पै स्कूल के टाइम तक आपन कर्तव्य निभावत अहैं लकिन गेदहरै पढ़ै नाय जाथिन।
आंगनबाड़ी कार्यकत्री सावित्री पाण्डेय बताइन कि लगभग साढ़े ग्यारह बजे कै समय रहा। यतने मा तीन मनई गाड़ी से आइन। एक थोड़ा लगड़ात चलत रहा। सफाईकर्मी से कुछ पूछत रहिन वकरे बाद अचानक हमरे अउर अंजू सिंह के ऊपर तमंचा तानके गाली दियत सब जेवर छीन लिहिन। जेहमा पायल, हाथ कै कंगन, कान कै बाली छीन लिहिन। जेसे गेदहरै काफी डर गइन। हर विभाग मा सूचना दीन गै बाय।
रसोइया रामावती कै कहब बाय कि गेदहरन के ताई सबजी चावल बना रहा। इतने मा तीन मनई स्कूल मा आइन। सब इहै सोचिन पानी पियै आय होइहैं। लकिन उनके सब सफाई कर्मी से पूछिन कि शराब कहां बनाथै। वकरे बाद अचानक धावा बोल दिहिन।
गांव कै सुमित्रा कै कहब बाय कि अबहीं गेदहरै स्कूल नाय जातिन। इधर गेहूं भी कटत बाय कुछ मनइन कै कहब बाय कि स्कूल न जाब नाही तौ चोर आइके दागि देइहै।
स्कूल मा पढ़ै वाली काजल अउर पायल कै कहब बाय कि चोर कुछ देर सफाई कर्मी से बतियात रहे। वकरे बाद मैडम जी के ऊपर तमंचा ताने रहे। जब सब गेदहरै चिल्लाय लागिन तौ सबका डाट कै चुप कराय दिहिन।
पूराबजार चैकी कै चैकी इंचार्ज राघवेन्द्र यादव बताइन कि तीन मनई का पकारि के पूछताछ कीन जात बाय। वहिंके शिक्षिका के तहरीर पै लूट कै केस दर्ज कीन गै बाय। मांग बाय की पुरूष टीचर तैनात कीन जाए। यू.पी. 42 1270 गाड़ी नम्बर लिखाये रहिन वकै जांच भी कीन जात बाय।