दलितों के बंधुआ मजदूर ना बनने पर घर में घुसकर की पिटाई, बांदा जिले के गंगा पुरवा गांव की कहानी

जिला बांदा, ब्लाक नरैनी गांव, गंगा पुरवा 6 जुलाई का हेंया के दलितन का बंधुवा मजदूरी न करै के कारन बालकृषण अउर वहिके लड़का बहुतै मार पीट करिन है। यहिके खिलाफ इं दलित 7 जुलाई का प्रदर्शन करिन है नरैनी थाना मा घटना के रपट लिख गे है अउर एस आई ओमप्रकाश या मामला के जांच करत है।जिला बांदा, ब्लाक नरैनी गांव, गंगा पुरवा 6 जुलाई का हेंया के दलितन का बंधुवा मजदूरी न करै के कारन बालकृषण अउर वहिके लड़का बहुतै मार पीट करिन है। यहिके खिलाफ इं दलित 7 जुलाई का प्रदर्शन करिन है नरैनी थाना मा घटना के रपट लिख गे है अउर एस आई ओमप्रकाश या मामला के जांच करत है। सियाराम अउर रामकिशोर बताइन कि हमें पिढ़िया परिवार बंधुवा मजदूरी करे के धमकी देत है। उंई हमसे जबरजस्ती काम करवावै चाहत है। पुलिस दबंगन के खिलाफ कारवाही न करिहैं तौ उंई हमें अउर ज्यादा परेशान करिहैं। मारपीट के डेर से हम गांव नहीं जइत आय। अरविंद बताइस कि दबंग हमार बाबा का बंदूक देखाइन है अउर चाचा का गोली मार दिहिन है काकी का भी मारिन है। शिव देवी,मइकी अउर बलदेव प्रसाद बताइन कि पहिले मड़ई दबाब के कारन काम करत है पै अब खर्चा ज्यादा है तौ काम नहीं कइ पावत आहीं पिढ़िंया परिवार के 10-15 लड़का हमार घर मा घुस के मारपीट करिन है अउर महेरियन साथै छेड़ खानी करिन है। दबंग दारू पिये रहे अउर तमंचा चाकू लइ के आये रहे। इनतान पहिले कत्तौ नहीं भा आय।

रिपोर्टर- गीता

Published on Jul 19, 2017