दंगल में पहलवानों के दो-दो हाथ

DSCN1288जि़ला बाँदा , गांव बेंदा। यहां पर यमुना नदी के तट पर विराजमान मां काली के मन्दिर में हर साल की तरह इस साल भी मेले और दंगल का आयोजन किया गया था।
इस दंगल में हरियाण, पंजाब, झारखण्ड, बिहार, दिल्ली, गोरखपुर,हमीरपुर, बांदा, झांसी, वाराणसी सहित और भी कई जगह के पहलवानों ने अपनी पहलवानी का लोहा मनवाया। पहलवानों के उत्साह को बढ़ाने के लिए पांच हज़ार से तीस हज़ार तक का इनाम रखा गया था।
लमेहटा के रामपाल और गोरखपुर के सियाराम के बीच आठ हज़ार के इनाम के लिए कुश्ती हुई जिसमें लमेहटा के पहलवान ने बाज़ी मारी। गुगौली के रामसेवक, झाँसी  के बालमुकुन्द और हरियाणा के जोती, लमेहटा के अजय के बीच हुआ मुकाबला बराबरी पर रहा। चारों पहलवानों को आधा आधा इनाम मिला। इस मौके पर तिन्दवारी के विधायक और कई अन्य लोग मौजूद थे।