तहसील मा आई दरखासन के आंकडा

tahsheel
बांदा तहसील

जला बांदा, ब्लाक नरैनी, कस्बा नरैनी। हेयाँ21मई 2013 का तहसील दिवस लाग रहै। जेहिमा तिरेपन दरखास आई रहंै। गांव के मड़ई बहुतै उम्मीद के साथ आये रहै कि उनके समस्सयन का निदान होई। पै उनका तौ भरोसा के आलावा कुछ नहीं मिला। तिरपन दरखास मा से कुल दुई राजस्व विभाग के दरखास का निदान होई पावा है।
गुढा गांव के मजरा गनेशन पुरवा से आई समरन अउर मन्ती कहत है-‘‘हम पेंशन का कदयौ दरकी तहसील मा दरखास दीन है। आज तक हमार समस्या जस का तस बनी है। जबैकि मड़ई यतनी उम्मीद के साथ किराया भाड़ा लगा के आवत है कि हमार सुनाई होई। पै उंई दरखस ले के बाद कूडा मा डाल दीन जात है।
कि आंकडा नरैनी तहसील के राजस्व लिपिक रविशंकर बताइन है। जल निगम की दरखास दस, स्वास्थ्य विभाग सात, पुलिस विभाग पांच, राजस्व विभाग सात, शिक्षा विभाग तीन विकास दस महुआ, नरैनी दोनों नरैनी नगर पंचायत के तीन, पशु चिकित्सालय एक, नलकूप बांदा एक, वन अउर पी.डब्लू.डी. दुई। या तहसील दिवस मा एस.डी.एम. के अध्यक्षता मा इं दरखास आई रहैं।