तंबाकू के पदार्थों पर बढ़ा टैक्स

पटना। हाल ही में बिहार की राज्य सरकार ने तंबाकू के सभी उत्पादों पर, जैसे सिगरेट और बीड़ी पर कर बढ़ा दिया। पर इस कर को बढ़ाने की मांग करने वाले सरकार के इस निर्णय से पूरी तरह खुश नहीं हैं।
सिगरेट पर बीस प्रतिशत से बढ़ाकर सरकार ने तीस प्रतिशत टैक्स कर दिया है और पहली बार बीड़ी पर तेरह प्रतिशत टैक्स लगाने की घोषणा की है। लेकिन कैंसर की बीमारी पर काम करने वाले अरविंद कुमार ने कहा कि इतनी कम बढ़ोतरी से तंबाकू का सेवन करने वाले लोगों पर खास असर नहीं पड़ेगा। उनकी मांग थी कि टैक्स बढ़कर कम से कम पैंसठ प्रतिशत होना चाहिए जिससे लोग तंबाकू के उत्पादों के बढ़े हुए दामों के कारण उन्हें कम खरीदें। दूसरी ओर तंबाकू नियंत्रण पर काम करने वाली संस्था सीड्स के निदेशक दीपक मिश्र ने बीड़ी पर टैक्स लगाए जाने के निर्णय पर खुशी जताई है।
साल 2010 में की गई एक खोज के अनुसार बिहार राज्य में लगभग साड़े तीन करोड़ लोग तंबाकू या उसके उत्पादों का प्रयोग करते हैं। इनमें से हर साल करीब साठ हज़ार लोग तंबाकू से पैदा होने वाली बीमारियों से मरते हैं। इस स्थिति को सुधारने के लिए तंबाकू के उत्पादों की कीमत बढ़ाने की मांग की जा रही है।