ढाई महीना अनशन के बाद भी नई होत कारवाही

mahoba kasba photo copyजिला महोबा, महोबा,  29 मार्च से बुन्देली समाज वाले आल्हा चैक बरगद के नीचे बिजली विभाग के खिलाफ अनशन पे बैठे हें। सामूहिक उपवास करें के बाद भी अधिकरियन के कान में जू तक नई रेंगत हे। अब अनशन कर्मियों ने सुबेरे मोहल्ला मोहल्ला में फेरी लगाउब शुरू कर दओ हे।
बुन्देली समाज के संयोजक तारा पाटकार बताउत हे की बिजली कम ओर बिल ज्यादा आउत हे। एसे सूखा में आदमी खा परिवार पालब मुश्किल परो हे। इत्तो ज्यादा बिल किते से भरहें। अगर बिल नई भरो जात हे तो कनेक्शन काट दये जात हे। 2 जून से महोबा की गली गली में 7 बजे से फेरी लगाउत हे। एते से दिन भर जिला के छोटे बड़े अधिकारी निकरत हे पे कोनऊ ध्यान नई देत हे। सरकारी कर्मचारियन खा न बिल भरने परते हे ओर न ही गर्मी में रहें खा मिलत हे 7 जून खा 64 दिन हतो। सामूहिक उपहास करें हे रोजा भी रखो हे। जीसे बिजली की समस्या दूर हो। जभे तक जा समस्या दूर न होहे हम अनशन खत्म न करहे।
अनशन में पूर्व जिलाअध्यक्ष एंव संरक्षक सुखनंदन सिंह अमरचन्द्र विश्वकर्मा, करनसिंह यादव, सूरज प्रकाश खरे, सुमित्रा देवी, सौरभ रैकवार शामिल रहै।
महोबा बिजली विभाग के अधिषासी अभियन्ता नेकीराम कहत हे की जनता खा गुमराह करें के लाने अनशन करें हे। ऊ मामला कहू ओर हे। पेहले प्राइवेट कर्मचारी बिजली के मीटर फीडिंग करत हते। जीसे जनता से मनमानो रूपइया लओ जात हतो ओर गलत फीडिंग के कारन बिल भी ज्यादा आउत हतो। जा सब काम सरकारी कर्मचारी से कराओ जात हे। अब कोनऊ के कनेक्शन नई काटे जात हे। ऊ प्राइवेट कर्मचारियन से काम कराये के लाने दूसरे के कहे से बैठे हे।

रिपोर्टर – सुनीता प्रजापति ओर श्यामकली