डायरिया बनल हैजा

मरीज के इलाज करईत डाॅक्टर
मरीज के इलाज करईत डाॅक्टर

जिला सीतामढ़ी, प्रखण्ड सोनबरसा, पंचायत इंदरवा, गांव सहोरवा। उहां 25 अक्टूबर 2014 से डायरिया के प्रकोप मुशहरी टोला से शुरू भेलई अउर बहुत तेजी से पुरे गांव में फैल गेलई। जेईमें पच्चास से अधिक लोग डायरिया से ग्रसित छथिन। प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र के द्वारा गांव में कैम्प लगा के इलाज के बाद भी दु आदमी मर गेलथिन।
उहां के कुदुस नट, इस्लाम नट कहलथिन कि गंदगी अउर बाढ़ के मछली डायरिया के कारण बनलई।
आंगनवाड़ी केन्द्र संख्या 105 के सेविका रौशन खातून आशा किरण देवी कहलथिन कि इहां एक दिन में सताईस लोग के कय दस्त होय लगलई। पी.एच.सी. में सूचना कयला पर पुरा स्वास्थ्य कर्मी दु दिन कैम्प लगाके इलाज कलथिन। ज्यदा सिरियस वाला के एम्बूलेन्स से अस्पताल भेजल जाई। इलाज के समय बुधई साह अउर सुखलाल साह के मौत हो गेलई। स्वास्थ्य प्रबंधक विनय भूषण बी.सी.एम. सर्वानंद पाण्डे कहलथिन कि हम सब उहां रह के बतीस लोग के इलाज डाॅक्टर योगेन्द्र अउर अल्लाद्दीन से करबईली।
स्वास्थ्य प्रभारी डाॅक्टर रामप्रवेश सिंह कहलथिन कि पुरे स्वास्थ्य कर्मी ऐई में लागल छी। उहां दवाई भरपुर रखल हई। ऐम्बूलेन्स अउर डाॅक्टर हर समय मैजूद छथिन। अभी मरीज में कुछ सुधार हई।