डाकघर में कई पद खाली

dak gharजिला बांदा। यहां पर डाक विभाग में छोटे से लेकर बड़े कई पद खाली पड़ें हैं। मगर सरकार इन पदों पर नियुक्तियां नहीं कर रही है।
कालिंजर और नरैनी के डाक विभाग के कर्मचारियों का कहना है कि कालिंजर कस्बे में 2007 से पोस्टमैन, पोस्टमास्टर और डाक रनर तीनों के पद खाली हैं। वहां पर एक संविदा कर्मी है जो सात गांव देखता है। उन लोगों का कहना है कि हम लोगों को डाक बनाना, बांटना और डाक ले जाने जैसे सब काम करना पडता है। नरैनी में पोस्टमैन का कहना है कि लगभग पंद्रह हज़ार की आबादी के बीच एक पोस्टमैन हूं। यहां कम से कम दो लोग होने चाहिए। विभाग हम लोगों के सिर में जितना काम रखे है उतना वेतन भी नहीं देता। गुढ़ाकलां में पोस्टमास्टर कि जगह कई महीनों से जगह खाली है। बिरौना पोस्ट, मैन कुलसारी पोस्ट मैन, करतल पोस्टमास्टर लहुरेटा, पोस्टमैन और महुआ ब्लाक के रिसौरा गांव में पोस्टमास्टर की भी जगह खाली है। यहां पर डाकघरों में काम करने वाले कर्मचारियों का कहना है कि उन लोगों को काम के लिए सुबह छह बजे घर से निकलना पडता है और देर शाम तक काम करना पडता है। यानी काम के घंटों से ज्यादा उन्हें काम करना पड़ता है। यहां सालों से कई पद खाली पड़ें हैं मगर सरकार कोई ध्यान नहीं देती।
डाक विभाग के पोष्ट मास्टर आर.बी. लखेरा कहते है कि हम लोग हमेशा अपने संबंधी विभाग को लिखते रहते हैं लेकिन कोई सुनवाई नहीं होती। 1 सितम्बर को हमने डाक अधिक्षक को खली पदों का पुरा ब्योरा भेजा है।

डाक विभाग में खाली पद
13 – डाक सहायक
4 – सहायक पोष्ट मास्टर
10 – पोष्ट मैन
2 – खजान्ती
1 – लेखपाल