ठण्डी करै बेहाल

ठंडा इंतजाम
ठंडा इंतजाम

चित्रकूट और बांदा जिला मा या समय ठण्ड से लोग बेहाल हवै। एक तरह तो किसानन के चेहेरे खिल उठे है कि कुछ फसल का फायदा होइ। दूसर कइत या ठण्डी से कई लोगन के मउत होइगे हवै। या बात का लइके उनके परिवार वाले बहुत परेशान हवैं।
कहत हवैं कि एक तौ सूखा के मारे मड़इन के मउत होत हवै। अब ठण्डी से भी मड़ई मरत हवै। हम गरीबन खातिर सरकार के लगे कउनौ व्यवस्था नहीं आय। यहै कारन से बांदा के कइयौ गांव मा लगभग चार से पांच लोगन के मउत चार दिन के ठण्डी मा होइगे हवै। यहिनतान चित्रकूट जिला के अलग अलग गांव मा तीन लोगन के मउत होइगे हवै। सरकार एक एक कम्बल बांटत हव,ै तौ का इनतान के कोहरा वाली ठण्डी पानी बरसत गलन अनके बांटे गे एक एक कम्बल से खतम होइ सकत हवै। सरकार का तौ गरीब लोगन खातिर कुछ अउर व्यवस्था ठण्डी से बचै खातिर करैं का चाही। जेहिसे लोगन के मउत तौ न होइ सकै।
जेहिके मउत होत हवै वा तौ दुनिया से चला जात हवै, पै वहिके पिछे लाग वहिकर परिवार बिलबिला जात हवै। इं मरे वाले लोगन के परिवार का शासन प्रशासन कइती से कउनौ मुआवजा भी नहीं मिला आय। का सरकार के लगे मरे वाले लोगन के सूचना नहीं पहुंची आय।