ट्यूबवेल बिगड़ै से सुखात फसल

जिला फैजाबाद, ब्लाक तारुन, गांव पारागरीबषाह अउर मया, ग्रामसभा जमुनी पुर, गांव गंगापुर। हिंआ कै सरकारी ट्यूबवेल बिगड़ै से फसल सुखात बाय। गन्ना, उड़द, पिपरमिन्ट कै सिंचाई नाय होय पावत बाय।
पारागरीबषाह कै गणेषदास गुप्ता बताइन कि छह साल से सरकारी ट्यूबवेल बन्द बाय। ढ़ाई हजार कै आबादी बाय। कुछ मनई तौ इंजन, ट्यूबवेल लगुवाय लेहे अहैं जेकरे नाय लाग बाय ऊ दुसरे से सींचाथै। रामनाथ, गब्बर, रामकुमार अउर कान्हा बताइन कि हमरे सब दुसरे के साधन से सिंचाई करीथी। हर खेत मा ट्यूबवेल न लगवाय मिले। देखभाल करै वाले महराजदीन बताइन कि तीन साल से वकै बोरिंग खराब होइगै बाय। वकरे ताई दुसरी जगह जमीन ढं़ूढ़ी जात बाय। दस महीना से वकै जिम्मेदारी विभाग स्वयं कराथै।
गंगापुर कै सरोज, दिनेष बताइन कि हमरे सबके खेत कै सिंचाई यही सरकारी ट्यूबवेल से हुवत रहा लकिन साल भर से रोवावत बाय। कुछ महीना पहिले बिगड़ा रहा लकिन विभाग वाले आय के बनाय के गै रहिन। लकिन एक्व महीना नाय चला फिर बिगड़गै। कंचन, यकीदून निषा बताइन कि हमरे सबके पास इंजन नाय बाय कि अपने खेत कै सिंचाई कै सकी अउर न तौ हिंआ नहर बाय। बरसात के भरोसा रहा जाथै फसल आधा तिहा हुआथै। दुई तीन बीघा खेती उहौ पानी के वजह से नाय होय पावत।
नलकूप विभाग कै सहायक अधिषाषी अभियंता अमरपाल तिवारी बताइन कि जब तक छोट मोट समान बिगड़त रहा तब तक हम मरम्मत कराय दियत रहेन। पर अब बोरिंग फिर से करावै का परे। यकरी खातिर डी.एम. का सूचित कीन गै बाय फिर से बोरिंग हुवय खातिर पैसा आये तब बन पाये।