टूट गईं दुकाने, केसे चले परिवार

दरखास देय आये आदमी
दरखास देय आये आदमी

जिला महोबा, ब्लाक पनवाड़ी, गांव बेंदौ। एते बनी बीसन साल पुरानी दुकानन खा ग्राम प्रधान दिनेश ने टोरवा दओ हे। जीसे एते के आदमियन ने 30 दिसम्बर 2014 खा कुलपहाड़ एस.डी.एम. मुहम्मद रिजवान खा दरखास देके अपने दुकानन खे लाने दूसर जघा की मांग करी हे।
राजेन्द्र ओर चेतराम ने बताओ कि बीस साल पेहले ग्राम पंचायत केती से दलित आदमियन खा दुकान धरे खा जमीन मिली हती, पे दलित ओते नई रहत हते। जघा खाली देख हमने अपनी दुकाने धर लई हती। नर्पत सिंह ने कहो कि हम हंसिया-खुर्पी बना के बेच के परिवार पालत हते। प्रधान ने दुकाने टोरवा के हमाये पेट में लात मारी हे।
प्रधान दिनेश बताउत हे कि में एक साल पेहले से कहत हतो कि अपनी दुकाने हटा लेव। तालाब को सुन्दरी करन होने हे, पे गांव के आदमी कहत हते कि ऊ जमीन हमाई आय। दुकान न हटाबी।
कुलपहाड़ एस.डी.एम. मुहम्मद रिजवान ने बताओ कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश से दुकाने हटाई गई हें। अगर ओई गांव में कहूं बचत की सरकारी जमीन होहे तो ऊ आदमियन खा दे दई जेहे।