टीसी बिना एडमीशन का निकरा जात समय

Exif_JPEG_420जिला बांदा, ब्लाॅक नरैनी, कस्बा अतर्रा, मोहल्ला शास्त्री नगर। या कस्बा का रहैं वाला राजेश कुमार 15 जून का नरैनी बी.आर.सी. मा बइठे बड़े बाबू लखन का इंतजार करत रहै। वहिका आरोप है कि मैं चार दिन से लड़का के टीसी खातिर दउड़त हौं, पै टीसी नहीं मिलत अउर लड़का के एडमीशन का समय निकरा जात है।
राजेश कुमार का कहब है कि मैं चार तीन से बराबर टीसी खातिर बी.आर.सी. के चक्कर लगावत हौं। न तौ मोहिका कउनौ सही पता बतावा जात आय कि टीसी कबै मिली न दीन जात आय। रोज मोहिका बुला लीन जात है कि टीसी लई जाव। मैं तीस रुपिया किराया लगा के चार दिन से रोत सुबेरे आवत हौं अउर वापस चला जात हौं। मोहिका लड़का का एडमीशन जानकी कुण्ड मा करावैं का है। होंआ 5 हजार रूपिया भी जमा कइ चुके हौं। अब बिना टीसी एडमीशन का समय निकरा जात है। अगर मोहिका हेंया से सही पता मिल जात कि यतने दिन मा मिली तौ मैं वा स्कूल मा भी बात कइ लेतेव। अब मोर रुपिया भी चला जई।
बी.आर.सी विभाग के बड़े बाबू लखन लाल कहत हैं कि मैं आपन गांव चला गा रहौं अब वा आपन टीसी लई जाय।

रिपोर्टर – गीता