टीकमगढ़ के पलेरा ब्लॉक का यह आंगनवाड़ी केंद्र क्या दूसरे केंद्रों के लिए आदर्श बनेगा?

जिला टीकमगढ़ ब्लाक, पलेरा के 10 नम्बर वार्ड की आगनबाडी केंद्र का दूसरे केन्द्रों के लाने आदर्श बनेगा।
पलेरा के वार्ड नम्बर दस की आगनबाडी कार्यकर्ता अरुणा खरे ने बताई के आगनबाडी केंद्र से जो योजनाओं को लाभ आम आदमी तक पहुचने चहिए बो हम सब देत हें।और जो भी जानकारी आती हें।हम सब के बारे में बतात और सब को लाभ उन तक पोचात।हम पहले मंगल बार को आगनबाडी केंद्र में गर्भवती महिलाओं की गोद भराई करवात।जी में गर्भवती ओरतन को बुला के जी को नबो महीना लगत बाय बुलात और गांव की ओरतन को बुला के गोद भराई और करवात गर्भवती को पुरो श्रृंगार को सामान देत।और दूसरे मंगल बार को जो बच्चा छह महीना के हो जात उनकी पासनी करवात।जी मे बच्चन को बुला के और खीर बनवात हें।और तीसरे मंगलवार को बच्चन को जन्म दिन मनात हें।और जा में भी सभी गर्भवती और धात्री और किशोरी बालिका आती हें।और चोथे मंगल वार को किशोरी बालिकाओं की प्रतियोगिता करवात हें।जी में किशोरी बालिकाये बुला के उनसे रंगोली मेहदी खेल आदि प्रतियोगिता करवाते हें।और जो किशोरी बालिकाये प्रथम आती उने परुस्कार दओ जात।और हर मंगलवार और शनिवार को पैकेट बाटे जात। मंगलवार को छह माह से लेके तीन साल के बच्चा और गर्भवती और धात्री ओरतन को दरिया और खिचड़ी के पैकेट देत।और शनिवार को लड़कियान को।और संगे खाना भी देत बच्चन को गर्भवती धात्री किशोरी बालिकाओं को सब को।और किशोरी बालिकाओ को सलाह भी दई जात हें।के माहवारी के टाइम पे साफ़ कपडा को प्रयोग करो अगर पेड़ नईया तो।और कपडा डीटोल से धोके प्रयोग में लेओ और।लाडली लक्ष्मी योजना के भी फार्म भरवाते हें जेसे जी के एक लड़का और एक लड़की हें।बाको और जी की दो लड़की हें बाको फार्म भरत।अगर नसबंदी को कार्ड लगत।
ज्योति ने बताई के रोज खाना मिलत और पढ़ाई भी होत।और हलुआ पूरी भी मिलत।रागनी यादव और पूनम खरे ने बताई के स्वास्थ के बारे में भी जानकारी मिलत और स्वास्थ सम्बन्धी गोली भी दई जाती।जैसे अगर माहवारी में दर्द जादा होय के खून की कमी या टेम पे ना होय तो।बाकि सब के बारे में बतात और दवाई भी देती। जीरा बाई रामबाई ने बताई के सब कछु मिलत खाना भी और पैकेट भी।
अनिल कुमार ने बताई के हम दस आगन बाड़ी केंद्र में खाना देत।रोज जितने बच्चन की हाजरी मिलत उतने बच्चन को देत।
रिपोर्टर- सफीना 
01/08/2016 को प्रकाशित

टीकमगढ़ के पलेरा ब्लॉक का यह आंगनवाड़ी केंद्र क्या दूसरे केंद्रों के लिए आदर्श बनेगा?