टावर मालिक के हत्या

13-05-15 Karvi - Murder Case webजिला चित्रकूट, ब्लाक पहाड़ी, गांव देवकली। हिंया का रहै वाला इंदू पांच साल से मानिकपुर ब्लाक के रैपुरा कस्बा के गढ्ढ़ी पुरवा मा यूनिनार के टावर मा रहत रहै। वहिके लाश 15 मई का यूनीनार टावर के बाहर मिली हवै। चैकीदार के सूचना दे मा रैपुरा थाना के पुलिस अउर एस.पी. घटना स्थ्ल मा पहुच गे। लाश का पंचनामा भरवा के पुलिस पोस्ट मार्टम का भेज दिहिस हवै।
बुआ मोहनिया देवी कहिस की मोर भतीज के लड़ाई 15 दिन पहिले अनिल यादव से भे रहै। वा इंदू का जान से मारै के धमकी दिहिस रहै। हमार भतीज बहुतै सीधा साधा रहै। वहिके एक लड़का एक लड़की हवैं। अब परिवार का खर्चा कसत चली।
टावर मा काम करै वाला अनिल यादव बताइस है कि इंदू के टावर माम पांच साल से काम रहौ। इंदू पांच टावर का मालिक रहै। हिंया के ननकू चैकीदार बताइस कि 12 बजे तक गस्त दीने हौं फिर मैं अपने घर जाके सोय गयेंव। 3 बजे रात के लाइट चली गे तौ जबै हम सुबह पांच बजे जागेन तौ टावर का पूरा दरवाजा खुला रहै अउर सामान बिखरा पड़ा रहै। इंदू का मार के खटिया मा बांध दिहिन रहै। अउर टावर की 24 बैटरी गायब होइ र्गइं हवंै। जबै हम या सब देखेव तौ सुबह 5 बजे रैपुरा थाना मा फोन द्वारा सूचना दीनेंव।
रैपुरा थाना के बड़े दरोगा शैलेन्द्र कुमार बताइन है कि हमंे 5 बजे सूचना मिली तौ तौ मउके मा आके देखेंव लाश का पोस्ट मार्टम का भेज दीन गा हवै। इंदू के गर्दन मा हाथ के नाखून बने रहैं अउर वहिका मोबाइल बन्द कइके पीठ के नीचे दबा दीन गा रहै। अबै तक कउनौ सुराग नहीं मिला हवै। छानबीन चलत हवै जल्द से जल्द से मुल्जिम पकड़े जइहै। अउर मुकदमा लगा के जेल भेजा जई।