झारखंड में 30 दिन के अन्दर 52 बच्चों की मौत

गोरखपुर घटना जैसा ही एक और मामला झारखंड के जमशेदपुर महात्मा गांधी मेमोरियल अस्पताल एमजीएम में सामने आया है। यहां पर डॉक्टरों की लापरवाही के कारण 30 दिनों में 52 बच्चों की मौत हो गई है। ये सभी बच्चे नवजात थे।महात्मा गांधी मेमोरियल अस्पताल के अधीक्षक भारतेंदु भूषण ने बताया कि मौत की वजह कुपोषण है। उन्होंने आगे कहा कि मृतक बच्चों में से कुछ का वजन बहुत कम था और मां के कुपोषण का असर भी उन बच्चों पर था। कुछ दिनों पहले आई एक रिपोर्ट में ये बात सामने आई कि रांची के अस्पतालों में 117 दिनों में करीब 164 बच्चों की मृत्यु हो चुकी है। उसके बाद ये घटना झारखंड में स्वास्थ्य व्यवस्था में सवाल खड़े कर रही है।

गोरखपुर घटना पर पढ़िए हमारी रिपोर्ट –

गोरखपुर में ऑक्सीजन न मिलने से हुई बच्चों की मौत