जो जीता, वही सिकंदर! नगर निकाय चुनाव में बांदा और ललितपुर में इन्होंने दी भाजपा को टक्कर

उत्तर प्रदेश के नगर निकाय चुनाव खत्म हो गये है। चुनाव के बाद देखने में आया है कि भाजपा पार्टी के दस से बारह प्रतिशत वोट कम हो गये हैं। मिलते है जीते हुए उन अध्यक्ष और वार्ड सदस्यों से जिन्होंने भाजपा को टक्कर दी है। बांदा जिले के तिंदवारी नगर पंचायत से आम आदमी पार्टी की मुन्नी देवी ने अध्यक्ष पद जीता है। वही ललितपुर जिले की पाली नगर पंचायत से रामकुमार चौरसिया अध्यक्ष है।
बांदा की अध्यक्ष मुन्नी देवी के पति पहले दिन ही अध्यक्ष की कुर्सी पर मिलें। इसके बारे में मुन्नी देवी का कहना है कि जब जरूरत होगी तब मैं नगर पलिका जाउंगी। और शौचालय, नाली और सड़क बनवाने का काम करूंगी और जो गायें घुमती है इनके लिए भी व्यवस्था की जायेगी।
ललितपुर के निर्दलीय पार्टी के अध्यक राजकुमार चौरसिया का कहना है कि किसानों के लिए पन्द्रह किलोमीटर नहर बनवाएंगे।जो रोजीरोटी के लिए पलायन करते है उनके लिए अच्छा होगा। जनता के लिए अच्छा काम करना है। बहन बेटियों के लिए स्वरोजगार उपलब्ध कराया जायेगा। पाली के वार्ड नम्बर छह की सदस्य प्रभा चौरसिया का कहना है कि विकास करवाने के लिए चुनाव लड़ी हूँ। वार्ड नम्बर एक की निर्दलीय सदस्य ममता अहिरवार का कहना है कि लोगों को सरकारी योजनाओं का लाभ दिलाने की कोशिश करूंगी।

खबर लहरिया ब्यूरों

published on Dec 27, 2017