जेल जाएंगे बच्चों को स्कूल न भेजने वाले अभिभावक

फोटो साभार: फेसबुक/ओम प्रकाश राजभर

बलिया में कल उत्तर प्रदेश के दिव्यांग एवं पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री ओम प्रकाश राजभर ने राजभर समाज के एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि अपने बच्चों को स्कूल ना भेजने वाले अभिभावकों को पांच दिन तक थाने में भूखाप्यासा बैठाएंगे।
उन्होंने आगे कहा कि मैं अपने मन का कानून बनाने वाला हूं। समाज के जिस गरीब का बच्चा विद्यालय नहीं जाएगा, उसके मांबाप को पांच दिन थाने में बैठाऊंगा। ना पानी पीने दूंगा और ना ही खाना खाने दूंगा।
उन्होंने कहा कि अगर आप लोगों ने बच्चों को स्कूल नहीं भेजा तो आपको उठवाकर थाने ले जाया जाएगा। इस नाते कह रहा हूं कि देखिए अभी तक आपका नेता, आपका बेटा, आपका भाई आपको समझा रहा था। आपने अगर मेरी बात नहीं मानी, तो छह महीने और मनाऊंगा।
ओम प्रकाश राजभर ने कहा कि भगवान राम ने समुद्र को तीन दिन मनाया था, जब वह नहीं माना तो भगवान को हथियार उठाना पड़ा। समुद्र त्राहिमामत्राहिमाम करने लगा। उसी तरह जिस भी गरीब का बच्चा विद्यालय नहीं जाएगा, छह महीने के बाद उसे थाने में पहुंचा दूंगा, चाहे भले ही मुझे फांसी क्यों ना हो जाए। उन्होंने इसके बाद मौजूद भीड़ का हाथ उठवाकर पूछा कि कोई गलत काम तो नहीं है। कितने लोग इसके समर्थन में हैं। इस पर अनेक महिलाओं ने हाथ उठाकर सहमति जतायी।
प्रदेश के कैबिनेट मंत्री एवं सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर ने कहा है कि जिस सामाजिक आंदोलन की शुरुआत मैंने 15 वर्ष पहले की थी। आज वह एक आंदोलन का रूप ले चुका है।