जिला बांदा, गांव गजपुरवा की सुनीता ने ससुराल वालों के खिलाफ बांदा में एस पी को दी दरखास

जिला बांदा, ब्लाक जसपुरा, गांव गजपुरवा मोर नाम सुनीता हवै। मैं फतेहपुर जिला के रहै वाली आहूं। मोर शादी 13 साल पहिले जिला बांदा ब्लाक जसपुरा, गांव गजपुरवा मा नाथूराम के साथै भे रहै।
शादी के दुई साल बाद उंई मोहिका दहेज की मांग का लइके बहुतै मारत पिटत रहै। अउर मोहिका घर से निकार दिहिन।
यहै कारन 8 सितम्बर का एस पी राजेन्द प्रसाद का दरखास दीनेहौं। मोर मनसवा नाथूराम अउर वहिके परिवार वाले मोहिका बहुतै मारत पिटत रहैं। मोरे बाप के लगे जउन दहेज रहै वा दइ दिहिस रहैं।
दहेज मा 50 हजार के भइंस दिहिस रहै। जेहिमा सुसराल वाले बेच डारिन रहै। उंई फेर मोहिसे रुपिया अउर गाड़ी के मांग करत है।
मोर गरीब बाप महतारी कहां से बार बार रुपिया देहैं। मोर छोट छोट तीन बच्चा हवै उनका लइ के भटकत हौं। जसपुरा के थाना मा चार दरकी दरखास दीने रहिव, पै हुवां मामला रफा दफा कइके निपटा दीन गा रहै।
यहै कारन अब एस पी का दरखास दीनें हौं। जहिसे मोहिका भी नियाव मिल सकै।

रिपोर्टर- गीता देवी 

17/09/2016 को प्रकाशित

जिला बांदा, ब्लॉक जसपुरा, गांव गजपुरवा की सुनीता ने ससुराल वालों के खिलाफ बांदा में एस पी को दी दरखास