जिम्नास्टिक्स वर्ल्ड कप में गोल्ड जीतने वाली पहली भारतीय बनी दीपा करमाकर

साभार: दीपा करमाकर/ ट्विटर

भारत की शीर्ष जिम्नास्ट दीपा करमाकर ने तुर्की के मर्सिन में चल रहे एफआईजी कलात्मक जिम्नास्टिक्स वर्ल्ड चैलेंज कप की वॉल्ट स्पर्धा में स्वर्ण पदक अपने नाम किया। दीपा यह कारनामा करने वाली वह देश की पहली जिम्नास्ट है। यह वर्ल्ड चैलेंज कप में उनका पहला पदक था। त्रिपुरा की 24 वर्षीय जिम्नास्ट दीपा करमाकर 2016 रियो ओलंपिक में वॉल्ट स्पर्धा में चौथे स्थान पर रही थीं। उन्होंने आज 14.150 के स्कोर से स्वर्ण पदक हासिल किया। वह क्वालीफिकेशन में भी 13.400 के स्कोर से शीर्ष पर रही थीं।

पहले प्रयास में दीपा का स्कोर 5.400 रहा जबकि उन्होंने एक्सीक्यूशन में 8.700 अंक जुटाए, जिससे उनका कुल स्कोर 14.100 रहा। उन्होंने अपने दूसरे प्रयास में 14.200 (5.600 और 8.600) स्कोर किया जिससे उनका औसत 14.150 रहा। अपने कोच बिश्वेश्वर नंदी के साथ आई दीपा ने क्वालीफिकेशन में 11.850 के स्कोर से तीसरे स्थान पर रहकर बैलेंस बीम फाइनल्स के लिए भी क्वालीफाई किया।