चित्रकूट जिले के कर्वी के नई बस्ती मोहल्ले में एक महिला को जान से मारने की कोशिश


जिला चित्रकूट, ब्लाक कर्वी, बिजली पावर हाउस नई बस्ती कर्वी हिंया के रहैं वाली उमा बताइस कि वहिकर शादी हिंया भे रहैं तबहिने से वहिके ससुराल वाले दहेज़ के माग का लइके वहिके साथै बहुतै मारपीट करत हवै 14 अगस्त का तौ मिटटी का तेल डार के मारै के कोशिश करिन रहै यहिसे कर्वी कोतवाली मा रपट लिखाइस हवै।
उमा का कहब हवै कि वहिकर मइका बांदा जिला के नढूवा गांव मा हवै मोर महतारी बाप बहुतै गरीब हवै मोर शादी मा जउन बना तउन दहेज़ दिहिन हवै,पै मोर सास मोहिका कहत हवै कि अपने बाप से तीस हजार रुपिया लइके अइहे तबहिने तोहिका रखिबे यहै बात का लइके वा मोहिका जान से मारै के कोशिश करिस हवै,पै मैं कउनौतान सेबच के घर से निकर आई हौं रास्ता मा मोहिका चक्कर आ गा रहै तौ मैं गिर गयेंव तौ गांव के लोग एम्बूलेंस का फोन कइके बुलवा लिहिन अउर मोहिका अस्पताल मा भरती करिन हवै।
मैं अपने मइके का फ़ोन करेव सब आगे अ उर मोहिका बचा लिहिन मोर मनस्वा अजय कुमार परदेश मा रहत हवै व भी अपने महतारी के पक्ष मा बोलत हवै कि मार डारौ या से अब मैं वा घर मा न जइहौं मोरे दुई साल के बिटिया हवै वाहिका भी कउनौ ध्यान नहीं देत आहीं या कारन से मैं कोतवाली मा रपट लिखवाये हौं पुलिस मुकदमा लिख लिहिस हवै। जांच करै का कहत हवै।
उमा के सास सविता का खब हवै कि उमा हमै फंसावै मा लाग हवै वा अपने से मिटटी का तेल डार लिहिस रहै हम कुछौ नहीं खे आहीं वहिकर मनसवा का शादी मा कुछ नही मिला आय या से वा गुस्सान हवैमै तौ बहुतै समझावत हौं कि मिल के रहै अपने साथै परदेश लइ जाई पै वा नहीं लइ जात हवै तौ मैं का करौ कोतवाली पुलिस का खब हवै कि मुकदमा लिख गा हवै जांच के बाद कारवाही कीन जई ।
उमा के चाचा का कहब हवै कि हमरे भतीजी का ससुराल वाले परेशान करत हवै। अब हम कारवाही जरुर करबे पहिले मैं या सोंच के रही जात रहौं कि लड़की का वा घर मा रहै का हवै।पै अब तौ उंई जान से मारै तक का तैयार हवै। यहिसे हमका आपन लड़की के जान नहीं देवावै का हवै। अगर हमार सुनवाई ना होई तौ अउर पुलिस भी ध्यान ना देइ तौ ऊपर के अधिकारिन का आपन गुहार जा के सुनइबे।
उमा के बुआ के लड़का भरत का कहब हवै कि ससुराल वाले येत्ता गिर जइहे कउनौ का पता नहीं रहै। उमा का मनसवा चाहत तौ उमा का वा अपने साथै परदेश लइ जा सकत हवै।
यहिसे सबै लड़ाई खातम होई जात। अगर देखा जाये तौ वा खुदै परिवार के साथै शामिल हवै।या कारन से वहिके सास अउर ज्यादा हमरे बहिनी का परेशान करत हवै। अगर वाहिका मनसवा अपने साथ लइ जाये लड़ाई ना होइ।

रिपोर्टर- मीरा जाटव और नाजनी रिजवी