जान बचावैं खातिर, घर से रहिहौं दूर

4gजिला बांदा, कस्बा नरैनी, मोहल्ला कारू देवी। हेंया के सीता 24 जुलाई का आपन समस्या कुछ इनतान बताइस कि मनसवा राजबहादुर बहुतै मारपीट करत है। यहिके दरखास वा नरैनी कोतवाली मा दिहिस ह।

सीता बताइस कि मोर मनसवा खतम होइगा रहै। देवर साथै षादी करे सात साल होइगे हैं। पांच साल से अतरे दिन दहेज का ताना दइके मारत है। खूब दारू पियत है अउर बीड़ी मा आगी जला के पूर षरीर जला देत है। 18 जुलाई का पूरा षरीर जला दिहिस अउर गला दबा के खूब मारिस। जब मोहिका होष न रहिगा तौ घर से भाग गा। यहिके पहिले भी कइयौ दरकी मार चुका है अउर पंचायत मा समझउता होई जात रहा है।

जबै मोहिका होष आवा तौ सुबेरे आपन मौसी के पास गईंव। बाप का बुलवाके मइके आ गई हौं। राजबहादुर से बात करैं के कोषिष कीन गै, पै वा नहीं मिला आय।

नरैनी कोतवाली का एस.आई. प्रमोद सिंह कहत हैं कि सीता के एन.सी.आर. दर्ज है। राजबहादुर के खिलाफ मारपीट के धारा 323 गाली गलौज के धारा 504 अउर जान से मारैं के धमकी के धारा 506 लाग है। राजबहादुर का पकडैं के कोषिष कीन जात है।