जागरूकता से ही बचाव

Women_at_a_SHG_Meeting
प्रशिक्षण में महिला

जिला सीतामढ़ी के डुमरा रिसोर्स सेन्टर में 5 जून 2013 के मस्तिष्क ज्वर के एक दिवसीय प्रशिक्षण भेलई। एई प्रशिक्षण में तेरह प्रखण्ड के कुल एकतीस सी.आर.पी. अउर सहयोगनी भाग लेले रहथिन।
प्रशिक्षण देवे वाला डॉक्टर उदय शंकर प्रियदर्शी अउर डॉक्टर एस के रघुवंशी कहलथिन कि अभि दिमागी बुखार के प्रकोप बढ़ते जा रहल हई। एई के लेल एकर जानकारी बहुत जरूरी हई। जानकारी के अभाव में ही लोग जान से हाथ धो लई छथिन। इ एगो वायरल बिमारी हई जे मच्छर के काटे से होई छई। जे एक से पन्द्रह बरस तक के बच्चा के ज्यादा होई छई। अगर एकर लक्ष्ण भी मिले त तुरंत डाक्टर से संपर्क करू अउर बच्चा के अस्पताल में भर्ती करावे।
महिला समाख्या के साधन सेवी श्री मती निलु श्री वास्तव अउर लता कुमारी कहलथिन कि इ प्रशिक्षण देबावे के उदेश्य हई कि इ सी आर पी, सहोगनी सब गांव गांव में जाई छथिन महिला सब के साथ बैठक करई छथिन। इनका संपर्क में बहुत महिला रहई छथिन जिनका माघ्यम आसानी से जानकारी पहुँच    सकई छई। लोग में जागरूकता ला के ही एई बिमारी से बचल जा सकई छई।