जहां खेती ही है जीवन की कहानी वहां नहीं मिल रहा है पानी

जिला चित्रकूट, ब्लाक बबेरू, गांव हरदोली हेंया के किसानन का आरोप है कि पानी के बिना कुछौ पैदा नहीं होत आय यहै कारन किसान भुखमरी के कगार मा है। पानी साथै अन्ना जानवर अउर बिजली के समस्या भी किसानन का परेशान करत है नहर खाली नाम खातिर बनीं है यहिमा पानी कत्तौ नहीं छोड़ा जात आय विभाग वाले ध्यान नहीं देत आहीं। जिला चित्रकूट, ब्लाक बबेरू, गांव हरदोली हेंया के किसानन का आरोप है कि पानी के बिना कुछौ पैदा नहीं होत आय यहै कारन किसान भुखमरी के कगार मा है। पानी साथै अन्ना जानवर अउर बिजली के समस्या भी किसानन का परेशान करत है नहर खाली नाम खातिर बनीं है यहिमा पानी कत्तौ नहीं छोड़ा जात आय विभाग वाले ध्यान नहीं देत आहीं।  किसान केशव प्रसाद बताइस कि कांग्रेस के जमाना मा नहर चलत रहै पै अब नहीं चलत आय। पहिले धान के फसल हमरे गांव मा होत रहै पै अब खेत सूख पड़े है बरसात होय मा ज्वार अउर गेंहू के फसल बोइत हन। बरसात न होय मा बोर से सिंचाई करित हन। शिवमनी बताइस कि 5-6 साल से नहर बंद पड़ी है। दुइ तीन दिन का नहर चालू कीन रहै फेर बंद होइ गे है मड़ई बोर से खेत सींचत है अउर 80 रुपिया घंटा के हिसाब से रुपिया देइत हन है। नहर चलावे खातिर कइयौ दरकी बबेरू तहसील मा धरना प्रदर्शन कीन गा है पै नहर चलाई गे आय। वसीम खान बताइस कि नहर से पूर तहसील के गांवन मा सिंचाई होत रहै पै नहर न चले से बहुतै परेशानी है।नहर विभाग  के जेई कमल किशोर का कहब है कि बरसात का पानी आ जई तबै नहर मा छोड़ा जई।

रिपोर्टर- गीता और शिवदेवी

Published on Jul 4, 2017