जयमाला के समय माँगा दहेज़, मना करने पर किया मारपीट और बारात वापस

जिला महोबा, गांव विजयपुर में 7 मई को बारात आई जयमाला को कार्यक्रम चलई रओ तो के अचानक घराती और बाराती में मारपीट होन लगी। मामला जब पुलिस तक पहुचो तो बारात लौट गयी। घरातियन को आरोप हे के बरातियन ने दहेज मांगो। जबकी बरातियन को आरोप हे के कुर्सी तोड़बे को आरोप लगा के मार पीट करी।
घनश्याम मोड़ी के फूफा ने बताई के दो लाख रुपईया मांग रए ते न देबे पे मारपीट करन लगे। न हमाई पहले से तय हती दो लाख की केवल मोटरसाईकिल की तय हती।
सतीश मोड़ी के भज्जा ने बताई के तीन बजे पे जयमाला कार्यक्रम भओ और लड़ाई होन लगी मोड़ा वालिन ने सौ नंबर पे फ़ोन करो सो पुलिस आ गयी और बाराती में से तीन आदमियन को लिबा ले गयी।
निर्मला देवी मोड़ी की मताई ने बताई के हमाई मोड़ी जैसी ही जयमाला के लाने चढ़ी और बराती लाते धक्का मारन लगे हमाय मोड़ा ने कई के कुर्सी नइ टोरो जो सामान किराय को हे। बीच बचाव करवाओ सो मारन लगे। फिर मोड़ा बोलो के हमाय भज्जा जेल में हे हम शादी नइ कर हे। बाद में मोड़ी ने भी बोल दई।
राम प्रसाद मोड़ा के दादा ने बताई के कल फ़ोन आओ तो उते से सो हमने कई के दरोगा जी हम बा गांव में नइ जेहे। बे मोड़ी को इते कर जाबे के मंदिर से शादी कर देबे। अगर आगे कोनऊ बात हो रई तो हम संबंध बनाबे तैयार हे लेकिन हम जो लिखा लेहे के अगर मोड़ी कछू कर जाए भविष्य में घटना घट जाए तो हम लोग फंसे नइ।
संतोष दूल्हा ने बताई के दहेज़ की कछू मांग नइ हती न हमने कछू मांगो अपने मन से दे रए ते एक गाड़ी और शादी कर रए ते।

रिपोर्टर- श्यामकली

12/05/2017 को प्रकाशित