जब बिजली कड़के तब पेड़ के नीचे ना रुके! ललितपुर जिले में हुआ ऐसा एक हादसा

जिला ललितपुर, गांव जेरौन और पठारी उत्तर प्रदेश के जेरौन गांव में एक मजदूर आदमी के ऊपर अचानक आकाशीय बिजली गिरबे से मौत हो गयी। जोई मामला पठारी गांव में भी देखबे को मिलो। पठारी गांव में भी तीन आदमियन की मौत और पंद्रह आदमी घायल हो गये।जिला ललितपुर, गांव जेरौन और पठारी उत्तर प्रदेश के जेरौन गांव में एक मजदूर आदमी के ऊपर अचानक आकाशीय बिजली गिरबे से मौत हो गयी। जोई मामला पठारी गांव में भी देखबे को मिलो। पठारी गांव में भी तीन आदमियन की मौत और पंद्रह आदमी घायल हो गये। पूरन मृतक के मोड़ा ने बताई के हमाय बाप अबे पैतालीस साल के हते। कुआ को काम चल रओ तो नरेगा से सो उतई गये ते। बिजली गिरी और ख़तम हो गये। पड़ोसी पुष्पेन्द्र ने बताई के लेवर ने कई के तसला ले आओ सो तसला लेके आ रए ते। पानी बरसन लगो सो आम के पेड के नीचे खड़े हो गये बिजली गिरी सो ख़तम हो गये। उतई तसला डरो तो और बे डरे ते। प्रीतम प्रधान ने बताई के हमे आदमियन ने फोन करो जब पतो चलो अधिकारी आय दरोगा तहसीलदार लेखपाल करवाही भइ  पोस्टमार्टम भओ।अर्चना घायल मरीज ने बताई के पांव में लगी और कमर में विरधा के अस्पताल में कराओ इलाज एक दिन रए ते। जियन तिवारी दरोगा जाखलौन ने बताई के आठ बजे पोस्टमार्टम भओ और पंचयात नामा भर के हमने काम बंद कर दओ। बिद्रा तहसीलदार ने बताई के अगर मरीज एक हफ्ता से ज्यादा अस्पताल में रत तो बारह हजार सात सौ रुपइया की सहायता दइ जेहे। दोई गांव में लेखपाल तहसीलदार डी एम्, एस डी एम्, दरोगा मृत आदमियन को देखबे पहुचे। डी एम् ने मृत आदमियन के परिवार वालिन को चार चार लाख रूपइया और घायल आदमियन को चार हजार तीन सौ रूपइया देबे को एलान करो।

रिपोर्टर- सुषमा और राजकुमारी