जब खबर देने वाले की ही खबर ना मिले, देखिए बांदा जिले के डाकघर की ये विडियो

जिला बांदा,ब्लाक महुवा,कस्बा अतर्रा। डाकघर सबका सूचना पहुंचावे काम करत है,अगर वा खुदै बीमार पड़ जायें तौ का होइ?यहिनतान का एक उपडाकघर अतर्रा के लोधन थोक मोहल्ला मा है।या उपडाकघर लगभग पैंतालिस साल से एक जर्जर बिल्डिंग मा चलत है।डाकघर मा बाथरूम आय न पानी,स्पीड पोस्ट टिकट अउर लिफाफा जइसे कइयौ सुविधा नहीं आय। यहिसे हेंया के मड़इन का बहुतै परेशानी का सामना करे का पड़त है।
ओम प्रकाश सोनी का कहब है कि डाकघर मा ए. टी.एम अउर आधार कार्ड आवत है तौ पोस्टमास्टर दूसर जघा पहुंचा देत है। हमें स्पीड पोस्ट करे का होय तौ चार-चार घंटा तक डाक बाबू नहीं रहत आहीं।
जगदीश प्रसाद गुप्ता बताइस कि डाकघर मा मेहरियन का बइठे  का अउर पानी के कउनौ व्यवस्था नहीं आय।अतर्रा का मेन डाकघर आय। अगर हेंया सुविधा न कीन जई तौ चुनाव के बाद घेराव कीन जई। एच.पी गुप्ता बताइस कि डाकघर बस्ती मा है  यहिसे मड़इन के रुपिया छिन जाये का बहुतै ख़तरा रहत है।सविता बताइस कि गरीब जनता परेशान है बड़े आदमी बिना लाइन मा लागे आपन काम करवा लेत हैं। पोस्टमास्टर नरेंद्र पाण्डेय का कहब है कि पन्द्रह  साल से डाक घर के मरम्मत नहीं कीन गे आय। एक महीना पहिले मैं बड़े अधिकारिन का दरखास दीने हौं।

बाईलाइन-गीता देवी 

31/10/2017 को प्रकाशित