“जनता जाए भाड़ में”, बांदा के मनीपुर का स्वास्थ्य केंद्र आप देख लें तो, आप भी होंगे इन जनाब से सहमत

जिला बांदा, ब्लाक बड़ोखर, गांव मनीपुर 10 साल पहिले उप स्वास्थ्य केंद्र बनवावा गा रहै। पै खोला नहीं गा आय। सरकार लाखों रुपिया खर्च कइ के स्वास्थ्य केंद्र बनाइन रहै पै आज या टूट फूट पड़ा है गांव के मड़इन का स्वास्थ्य के कउनौ सुविधा नहीं मिलत आय। यहिके खातिर मड़ई का 5 किलोमीटर दूरी बड़ोखर या 10 किलोमीटर दूरी बांदा जाये का पड़त है। यहिके खातिर ऊंई कइयौ दरकी विभाग का दरखास दिहिन है पै कउनौ कारवाही नहीं कीन गें आय।
सोहन लाल गुप्ता बताइस कि हमें दवाई करावै 6 -7 किलोमीटर दूरी जाये का पड़त है जेहिसे कइयौ दरकी गर्भवती मेहरियन के जान तक चली गे है अउर कइयौ दरकी बीच रास्ता मा बच्चा भी होई जात है।खाली नाम खातिर हेंया अस्पताल बना है कुछौ सुविधा नहीं आय। भाजपा वाले आवत है आपन काम करत है चाहे जनता भाड़ मा जाये। उंई अस्पताल खातिर कुछौ नहीं करत आहीं।
रघुराज यादव का कहब है कि बसपा के शासनकाल मा अस्पताल बना रहै पै आज बिल्कुल जर्जर हालत मा है वी. डी. ओ. अउर सी. एम. ओ. का कइयौ दरकी दरखास दीने हन पै अस्पताल के हालत जस के रस है। आंगनवाड़ी शिव देवी बताइस कि रास्ता ख़राब होय के कारन हेंया ए.एन .एम . नहीं आवत आय।
प्रधान पति लालमन यादव का कहब है कि ए.एन .एम . के खाता मा अस्पताल के मरम्मत खातिर रुपिया आवा रहै पै वा मरम्मत नहीं करवाइस आय। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डाक्टर संतोष कुमार का कहब है कि गांव मा कउनौ सरकारी चौकीदार नहीं आय। प्रधान का उप स्वास्थ्य केंद के देख भाल करे का चाहीं। भविष्य मा उप स्वास्थ्य केंद्र के मरम्मत करायी जई।

रिपोर्टर- गीता देवी

06/06/2017 को प्रकाशित