छत टूटकर गिर रही, बरामदे में पढ़ाई करने को मजबूर महोबा जिले के लाड़पुर स्कूल के बच्चे

जिला महोबा, गांव लाड़पुर,  छत टूट के गिर रई बरामदा में पढ़ाई करबे के लाने मजबूर हे लाड़पुर स्कूल के बच्चा।जिला महोबा, गांव लाड़पुर छत टूट के गिर रई बरामदा में पढ़ाई करबे के लाने मजबूर हे लाड़पुर स्कूल के बच्चा। चंद्रभान ने बताई के बा स्कूल की छत गिर रई पानी टपकत शौचालय की भी परेशानी होत। प्रियंका छात्रा ने बताई के छत से मट्टी गिरत तो हमे डर लगत के कउ हमे लग न जाबे। पहले परीक्षा में बैठत ते कक्षा में। राम बाबू ने बताई के स्कूल को बने कम से कम पंद्रह सोलह साल हो गयी बच्चा पढ़ नइ पात पानी भर जात। मानसिंह सहायक अध्यापक ने बताई के एसी स्थिति स्कूल की हम तीन साल से देख रए जब से हम आय। कक्षा चार और पांच एक संगे लगात और एक कक्षा बरामदा में लगात। हमाय पूरे स्कूल के नब्बे बच्चा हे जीमे से इक्यासी बच्चा आत। हमने मई में बी एस ए को दई लिखित एन पी आर सी को लिखित दई। लेकिन हमाय विभाग में कबहु कोनऊ सुनवाई नइ होत। कत जो डाक लेयाओ बो डाक लेआओ और बाद में कूड़ेदान में फेक दई जाती। हर चार छह दिन में डाक मंगवाई जात। अमित कुमार बेसिक शिक्षा अधिकारी ने बताई के जा की जानकारी हम लए ले रए और अगर एसो हे तो उनकी बैठबे की व्यवस्था करी जेहे।

रिपोर्टर- श्यामकली

Published on Aug 16, 2017