चित्रकूट जिले के मुरका गांव की महिलाओं को नहीं मिला डिलीवरी का पैसा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गर्भावस्था सहायता योजना दुबारा शुरू करिन हवै। पै चित्रकूट जिला, ब्लाक मऊ, गांव मुरका के मेहरियन का यहिकर लाभ नहीं मिला आय। या योजना के शुरुआत गर्भवती मेहरियन के मउत मा कमी लावै अउर नवजात बच्चन के सही देख-भाल खातिर कीन गें हवै।
मऊ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के ब्लाक कम्युनिटी मैनेजर शीलनिधी का कहब हवै कि 1 जनवरी 2017 से या योजना के शुरुआत भे हवै। जेहिके पहिला बच्चा होई तौ वहिका पांच हजार रुपिया दीन जई। पांच हजार रुपिया तीन क़िस्त मा दीन जईपहिले महीना मा एक हजार, गर्भावस्था के एक सौ अस्सी दिन बाद दो हजार अउर बच्चा होय के बाद जबै बच्चा का पहिला टीका लागी, तबै लाभार्थी के खाता मा दुई हजार भेजा जई। बच्चा होय के अड़तालिस घंटा के भीतर खाता मा रुपिया पहुंच जात हवै। मेहरियन का कउनौ समस्या होय तौ हिंया बता सकत हवै।
संजू अउर आशा का कहब हवै कि सरकार छह हजार दे का कहिस रहै पै नहीं मिलत आय। आशा बहु हमें जानकारी नहीं देत आय।
आशा कार्यकर्ता निर्मला सिंह का कहब हवै कि पहिले बच्चा मा छह हजार मिले का नियम हवै। दूसर बच्चा मा या नियम नहीं आय।   

रिपोर्टर- सुनीता देवी

Published on Mar 6, 2018