चित्रकूट जिले के मानिकपुर में पचास साल से सूखा पड़ा बांध, किसान बरबादी के कगार पर

किसान कत्तौ सूखा से कत्तौ बाढ़ से परेशान रहत हवै| खेती के खातिर न कत्तौ  बीज न कत्तौ पानी मिलत आय|यहै हाल चित्रकूट जिला के ब्लाक मानिकपुर ऊचाडीह का यहै पनहाई गांव के बांध लगभग पचासन साल से अधूरा पड़ा हवै|
किसान खेदलाल बताइस कि अगर बांध नींकतान से बना होत तौ किसानन का पानी का खूब आराम होत अनाज खूब पैदा होत सूखा न पड़त|किसान सुमित्रा बताइस कि अधिकारी अउर ठेकेदार सब पइसा खा जात हवै कत्तौ कउनौ विकास नहीं भा आय|
किसान शिवकुमार बताइस कि बांध सही ढंग से नहीं बांधा गा आय| कच्ची बधाई कीन गे हवै|चुनाव के समय दददू विधायक आये रहे देख गे हवै जगन्नाथ मंत्री डी.यम रहे उ भी देख गे रहे फेर आपन बुन्देलखण्ड विकास नीति से जिला मा पइसा आवा रहै एयरकेशन सिंचाई विभाग का दीन गा पै अबै तक कुछौ विकास नहीं नहीं भा आय|
अधिशाषी अभियंता सिंचाई विभाग चित्रकूट अमरनाथ गुप्ता बताइन कि ऊचाडीय जउन बांध है| पनहाई रेलवे स्टेशन के लगे वहिमा सिटेज के समस्या हवै|वा लगभग पचासन साल पुरान बांध आय|यहिमा के स्टेटा राकी स्टेटा आय पिछले साल स्टेरिंग कराई गे हवै|यहिके स्वीकृति होइ गे हवै|पइसा अवतेन काम शुरू कइ दीन जई|

बाईलाइन-सुनीता बरगढ़

14/09/2017 को प्रकाशित