चित्रकूट जिले के पहाड़ी कस्बे को क्यों करना पड़ रहा है 80 साल से इंतजार

चित्रकूट जिला के पहाड़ी कस्बा के दलित बस्ती मा नाली,सड़क शौचालय जइसे जरूरत वाली सुविधा अस्सी साल से हिंया के मड़इन का नहीं मिलत आय। इं सुविधा खातिर मड़ई प्रशासन से कहत हवैं, पै प्रशासन कउनौ ध्यान नहीं देत आय।
छेदीलाल प्रजापति का कहना है कि हमार गांव मा नाली ,आर सी.सी. अउर कलोनी कुछौ नहीं बनी आय। सबसे ज्यादा समस्या तौ शौचालय के हवै। राकेश बताइस कि घरन का पानी रास्ता मा बहत हवै, काहे से नाली नहीं बनी आय। रामशरण भारती का कहब हवै कि हिंया पियें के पानी के बहुतै ज्यादा समस्या हवै अउर हिंया सफाई नहीं होत आय, न गरीबन का आवास मिलत आहीं। गोगा का कहब हवै कि हमें बहुतै दूरी से पानी लावें का पड़त हवै। पानी लावे मा घंटा डेढ़ घंटा का समय लागत हवै। रामनरेश बताइस कि सबसे ज्यादा समस्या नाली अउर पानी के हवै। पानी खातिर एक कुंआ बस हवै। नाली न होय से रास्ता मा कीचड़ भरा रहत हवै।
ग्राम विकास अधिकारी जयकरन सिंहं का कहब हवै कि यहै साल गांव मा नाली बनवा दीन जइहैं। नये हैन्डपम्प हिंया से नहीं लगवाएं जात आहीं।

रिपोर्टर- नाजनी रिजवी

Published on Feb 9, 2018