चित्रकूट जिले के इंद्रानगर में शमसान घाट पर नहीं है सर छुपाने की जगह

जिला चित्रकूट, ब्लाक मानिकपुर इंद्रानगर मुहल्ला मा शमशान घाट तौ हवै। पै हिंया न पानी के व्यवस्था आय न छाया के व्यवस्था आय जेहिके कारन सबसे ज्यादा बरसात मा लाश जलावै मा परेशानी होत हवै।जिला चित्रकूट, ब्लाक मानिकपुर इंद्रानगर मुहल्ला मा शमशान घाट तौ हवै। पै हिंया न पानी के व्यवस्था आय न छाया के व्यवस्था आय जेहिके कारन सबसे ज्यादा बरसात मा लाश जलावै मा परेशानी होत हवै। वार्ड मेम्बर संतोष कुमार का कहब हवै कि हिंया के आबादी 16 हजार 4 सौ हवै। दुइ साल से श्मशान घाट मा टीन सेट अउर पानी के व्यवस्था के मांग कीन जात हवै यहिके खातिर तहसील दिवस मा दुइ दरकी दरखास दीन गे हवै। अंशु पाण्डेय बताइस कि शमशान घाट मा छाया अउर पानी खातिर दस साल से मांग करित हन।काहे से गर्मी मा अउर बरसात मा टीन सेट न होय से बहुतै परेशानी होत हवै। गर्मी मा घाम मा खड़े होइ के लाश के जले का इन्तजार करे का पड़त हवै। बुइया अउर अच्छेलाल का कहब हवै कि बरसात मा लकड़ी गील रहत हवै टीन सेट न होय से बरसात रुके का इन्तजार करे का पड़त हवै कत्तौ-कत्तौ बीच मा पानी बरसे लागत हवै तौ लाश अधजली रहि जात हवैं। लाश जलावे के बाद नहाये खातिर पास मा गंदा तालाब हवै जेहिमा कांदौ अउर काई भरी  हवै। जेहिमा मड़इन का मजदूरी मा नहाये का पड़त हवै। नगर पंचायत के अधिशाषी अभियंता राम आशीष वर्मा का कहब हवै कि शमशान मा बाउंड्री  टीन सेर रास्ता बने का टेंडर पास भा रहै जेहिमा से बाउंड्री तौ बन गे हवै पै अबै रास्ता अउर टीन सेट बाकी हवै यहिके खातिर ठेकेदार का नोटिस दीन गे हवै। पानी के व्यवस्था अउर पेड़ पौधा लगावे खातिर भी टेंडर पास कीन गा हवै।

रिपोर्टर- सुनीता देवी

Published on Jul 4, 2017