चित्रकूट जिले का एक ऐसा मेला, जो लाया है खुशियाँ कम और गम ज्यादा

मेला मड़ाइन खातिर बहुतै खुशी लइके आवत हवै, पै चित्रकूट जिला के बगरेही गांव के  लालापुर मा आशावर देवी के खातिर लागे वाला या मेला दुकानदारन खातिर खुशी कम अउर दुःख ज्यादा लावत हवैं। या मेला जनवरी महीना के हर सोमवार का लागत हवै। दुकानदारन का कहब हवै कि दुकान लगावै मा प्रधान हमसे रुपिया लेत हवै।
अतर्रा के कुंती देवी का कहब हवै कि दुकान लगावै मा प्रधान मोहिसे ढाई सौ रुपिया लिहिस हवै अउर रसीद भी नहीं दिहिस आय। रामपुर का गणेश बताइस कि हमसे सौ रुपिया लिहिस हवै। प्रधान कहत हवै कि साफ सफाई खातिर रुपिया लीन जात हवै।
प्रधान श्लोक कुमार का कहब हवै कि बड़े-बड़े दुकानदारन अउर गन्ना बेचें वालेन से रुपिया लीन जात हवैं, काहे से मेला के एक दिना पहिले अउर बाद मा सफाई करावा जात हवै यहिके खातिर कम से कम दस सफाईकर्मी दूसर जघा से बोलावा  जात हवैं तौ रुपिया दे का पड़त हवै।

रिपोर्टर-  सहोद्रा

Published on Feb 19, 2018