चित्रकूट के प्रसिध्पुर गाँव में चेचक फैला, डॉक्टर इसे “अपने आप ठीक होने वाली बीमारी” बतलाते हैं

जिला चित्रकूट, ब्लाक पहाड़ी, गांव प्रसिद्धपुर हिंया एक महीना से चेचक के बीमारी फइली हवै। या बीमारी तीन साल से लइके 25 साल के उमर के लड़का अउर बिटियन का हवै।
16 दिसम्बर का जिला अस्पताल जाँच भे हवै जेहिमा 48 मरीज पाय गें हवैं। मरीजन का दवाई अउर सिरफ दीन गा हवैं।
करन सिंह अउर राम सिंह नाम के बच्चा बताइन कि जबै दाना निकले हवै, तौ खुजली होत हवै न खात बनत आय ,न सोवत बनत आय। डाक्टर आये रहै साफ सफाई से रहै का कहिन हवै अउर दवाई दीन हवै।
रविशंकर अउर शेषकुमारी का कहब हवै कि हमै 10 दिना पहिले बुखार आवा हवै , फेर दाना निकले हवै। पहाड़ी के सरकारी अस्पताल मा दवाई करावै गें रहै तबै हमार गांव मा डाक्टर के टीम आई हवै अउर सब का दवाई दिहिन हवै।
जाँच करै वाला आशुतोष बताइस कि अबै तक या गांव मा 48 मडई बीमार हवै। पांच नये केस पाये गे हवै। सबै मरीजन का उचित इलाज कीन जात हवै।
जिला अस्पताल के डाक्टर अब्दुल्लाह बताइन कि हमार टीम गांव वालेन का दवाई दिहिस हवै अउर इलाज करिस हवैअबै या बीमारी खातिर दवाई नहीं आई आय।
यहै कारन मरीज का दर्द अउर बुखार के दवाई दइ दीन जात हवै। चेचक के बीमारी अपने से कुछ समय बाद ठीक होय जात हवैं। हम इलाज भी करित हन। अबै वैक्सीन नाम के दवाई नहीं आयी आय।

रिपोर्टर- सहोद्रा