चित्रकूट के छिवलहा गाँव में 150 लोगों के लिए एक हैंडपम्प, वो भी खराब

जिला चित्रकूट, ब्लाक मऊ, गांव छिवलहा 3 साल से हिंया का हैण्डपम्प ख़राब पड़ा हवैं। 150 मड़इन के आबादी मा तीन हैण्डपम्प लाग हवै वहिमा के दुइ ख़राब हवैं। प्रधान कहत हैण्डपम्प जबै सांसद अउर विधायक निधी से रुपिया आ जई, तबै बनवाये जइहैं।
हेतराम सिंह अउर शिव कुमार समेत कइयौ मड़ई बताइन कि हमार बस्ती का पांच साल पहिले हैण्डपम्प लाग रहै अब वा तीन साल से ख़राब पड़ा हवैं। मड़इन का आधा किलोमीटर दुरी से पानी लावे का पड़त हवै। डेढ़ सौ के आबादी मा तीन हैण्डपम्प हवैं जेहिमा एक चालू हालत मा हवै बाकी दूनौ बिगड़े पड़े हवैं। यहै कारन एक हैण्डपम्प मा बहुतै भीड़ लागत है। जउन हैन्डपम्प बिगड़ गा हवै, वहिमा से लाल रंग का पानी निकलत रहै ।
प्रधान शिवसेवक का कहब हवै कि हमार गांव के आबादी 4 हजार हवैं। कुल 42 हैण्डपम्प लाग हवैं, जेहिमा से 38 चालू हालत मा हवैं। 8 रिबोर बन गे हवैं बाकी 6अबै बिगड़े बड़े हवैं। जबै विधायक अउर सांसद निधी से रुपिया आ जई तौ बनवा दीन जई ।

रिपोर्टर- सुनीता

Published on Feb 2, 2017