चित्रकूट के खांच गाँव में डकैतों के आतंक से कब मिलेगी राहत?

जिला चित्रकूट, थाना बहिलपुरबा, गांव खांच, रुकमा, बुजुर्ग खांच, मजरा रुकमा बुजुर्ग मा 6 अगस्त का 20 बदमाश गांव के दलित मड़इन का घर से निकाल के मारपीट करिन हवैं। थाना मा रपट कीन गे पै कउनौ सुनवाई नहीं भे आय। यहै कारन 9 सितम्बर का मड़ई फेर से धरना प्रदर्शन करिन हवैं।
खांच गांव के रामनाथ, विजय अउर सुरेश समेत लगभग बीस मडई बताइन कि हमारे गांव मा रात के लगभग 20 बदमास दारू पी के आयें रहैं।
घर घर दरवाजा खोला के बदमास मडइन का लाठी डंडा अउर कुल्हाड़ी से मार पीट करिन। जेहिमा 13 मडई बहुतै घायल होइगे हवैं। मेहरिया अउर बच्चन का भी मारिन हवैं।
मीरा, गरीबिया अउर संती समेत लगभग दस मेहरिया बताइन कि मारपीट के घटना का लइ के आज तक कउनौ कारवाही नही कीन गे आय।
हमार लड़का अउर मनसवा का घसीट घसीट के मारिन हवैं। बदमास के डेर से मडई आपन घर छोड़ के बाहर जाये का मजबूर हवैं। हमरे घर के मनसवन का बदमास मारत हवैं, तौ हम केहिके सहारा रहिबे। कइयौ दरकी रपट लिखावै के बाद भी हमार सुनवाई नही भे आय। जब तक सुनवाई न होइ तौ हम डी एम के सउहें लड़का बच्चन का लइ के धरना प्रदर्शन करबे।
अउर हमार मांग पूरी करें।नहीं तौ हम यहीन तान शासन प्रसाशन के दरबाजा ख़ट खटखटात रहिबे अगर तबहू सुनवाई न होई तौ आउर ऊपर तक जइबे।
हमार मांग हवै 1-घटना मा शामिल मड़इन के गिरफ्तारी 2- दलित बस्ती से शराब के दुकान हटाई जायें। 3-सुरक्षा खातिर बन्दूक के लाइसेन्स दीन जायें। 4- दलित बस्ती मा आवास अउर पट्टा के जमीन के सुविधा दीन जायें। 5-बस्ती के लगे पुलिस चौकी बनाई जाये।
अपर पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार का कहब हवै कि गांव वालेन के सुरक्षा खातिर पी ए सी जवान के कैम्प लगा दीन गे हवैं। चौकी के बारे मा अबै विचार नही कीन गा हवै। शराब का ठेका आबकारी विभाग हटाइ है।

रिपोर्टर- नाजनी रिजवी 

06/10/2016 को प्रकाशित