खुद पूरा नहीं कर पाए स्कूल लेकिन बाँदा के स्कूलों में लगा रहे चार चाँद

चित्रकला अउर पेंटिग के कला खातिर मशहूर है जिला बांदा के गांव बेंदा मा रहै वाला संतोष पेंटर। यहिके चित्रकारी अउर लेखन स्कूलन के सुन्दरता मा चार चांद लगावत हैं। संतोष के सबै पेंटिंग बच्चन का नवा संदेश देत है।शादी ब्याह मा भी दीवार मा चित्रकारी करत है। पेंटर संतोष बताइस कि मैं सन 1996 से पेंटिंग बनावत हौं। पेंटिंग करै के सोंचे नहीं रहेंव पै पेंटिग करै लागेंव तौ यहिमा मन लाग गा है।स्कूल के दीवारन मा मास्टरन काहे मा सरस्वती, महात्मा गांधी अउर महाराणा प्रताप का चित्र देख के बनावत हौं। संतोष के महतारी राजरानी बताइस कि मोर लड़का पढ़े मा बहुतै होशियार रहा है पै स्कूल के मास्टर वहिका बहुतै मारत रहै यहै कारन वा पढ़ाई छोड़ दिहिस है। काहे से स्कूल मा बड़ी जाति वाले नहीं चाहत रहैं कि छोट जाति वाले आगे बढ़ैं।
रिपोर्टर-मीरा देवी और शिवदेवी

Published on Dec 11, 2017