चालू चापाकल बंद भेल

gav wजिला सीतामढ़ी, प्रखण्ड रीगा, पंचायत बभनगामा गणेशपुर, गांव कुसुमपुर बखरी उतरवारी टोला। उहां वार्ड नम्बर बारह राम टोला में चालू चापाकल बंद हई। कारण हई कि पानी निकासी के कोई साधन न हई।
उहां के नगीना देवी, प्रमीला देवी, किसुनदेव राम सब कहलथिन कि इ राम टोला में बहुत पुराना चापाकल रहलई। केतना बेर खराब होयल लेकिन हम सब चंदा लगा के चालू करवईली। अभी भी चालू हई लेकिन पहिले नाला सड़क के बगल से रहई त पानी निकासी के साधन रहलई। लेकिन कुछ दिन पहिले सड़क बनलई त नाला बंद हो गेल हई। सड़क बने के समय हम सब कहली कि नाला न बंद करू त कहलथिन कि नाला बनायल जतई। अब न बनलई लेकिन जे रहई उहो बंद हो गेलई। जेई कारण पानी निकासी के कोई सुविधा न हई। तनको पानी सड़क पर गिरल त लोग सब गाली बात देवे लगई छथिन। जेई कारण हैण्डील निकाल देई छी। हमरा सब के पानी के बड़ा दिक्क्त हो जाईय। दोसर के चापाकल से पानी भी न भरे देई छई। कपड़ा, बर्तन साफ करे के दूर के बात हई। ऐई चापाकल से लगभग चालीस महादलित परिवार के सुविधा हई। वार्ड सदस्य लालधारी राम कहलथिन कि बी.डी.ओ. त नया हई। लेकिन मुखिया के कहई छी त कोई ध्यान न देई छथिन।
मुखिया मणिभूषण राय कहलथिन कि नाला के बंद करके सड़क बनयलक गेल हई। लोग सड़क पकड़ के घर बना लेले छथिन। तब बिना जमीन के कहां नाली बनतई।