चार महीना मा एक अउर मजूर के मौत

c taja bhatrakoopजिला चित्रकूट, ब्लाक कर्वी, कस्बा भरतकूप, गंव गोंड़ा। हिंया 7 दिसंबर का भांरा पहाड़ मा होल काटत रहै। जइसेन होल काट के चला तौ प्रभुदयाल के ऊपर पत्थर गिर गा। यहिसे वहिके मौत होइगे। वहिके मौत होय से परिवार मा दुख का माहौल बना हवै। प्रभुदयाल पहाड़ी ब्लाक गांव अरछा बरेठी का रहै वाला रहै।
रामबहोरी का कहब हवै कि मोर लड़का प्रभुदयाल दुइ साल से भौंरा पहाड़ मा पत्थर फोड़ै का काम करत रहै। भौरा पहाड़ के लीज बाबूसिंह के लड़का रामसिंह के नाम से हवै। 7 दिसंबर का रोज के जइसे प्रभुदयाल पहाड़ मा होल करत रहै। वहिके साथै गांव का कमलेश कुमार भी यहै काम करत रहै। उंई दूनौं पत्थर काट के जइसेन निकरे तौ पत्थर प्रभुदयाल के ऊपर गिर गा। यहिसे वा मर गा अउर कमलेश कुमार बाल-बाल बच गा। प्रभुदयाल के औरत सियादुलारी का रो-रो के बुरा हाल हवै।
कमलेश कुमार का कहब हवै कि मैं अउर प्रभुदयाल दूनौं साथै रहेन। हम दूनौं होल काट के चलै लाग। आगे मा रहौं अउर पीछे प्रभुदयाल। वहिके ऊपर पत्थर गिर गा। वहिका जिला अस्पताल जइ जात रहै तौ रास्ता मा प्रभुदयाल दम तोड़ दिहिस।
खदान मालिक रामसिंह का कहब हवै कि प्रभुदयाल के परिवार वाले जउन कहिहं तौ मानवता के नाते से कीन जई।
भरतकूप चैकी प्रभारी सुजीत कुमार सिंह कहिन कि खदान मालिक के खिलाफ 279 (खदान मालिक के लापरवाही जइसे हेलमेट अउर जूता के व्यवस्था न करब) अउर 304 ए (गैर इरादतन हत्या) के धारा लाग हवै। यहिके विवेचना सब इस्पेक्टर हरिओम मिश्रा करत हवैं।