चलती बस में किया बलात्कार

नई दिल्ली। 16 दिसंबर, 2012 की रात करीब साढ़े नौ बजे तेइस साल की लड़की के साथ कुछ लोगों ने सामूहिक बलात्कार किया। लड़की कोगंभीर हालत में सरकारी अस्पताल में भर्ती किया गया है। डाक्टरों के अनुसार लड़की की हालत गंभीर है। पुलिस ने ड्राइवरसमेत चार अपराधियों को पकड़ लिया है।

डाक्टरी की पढ़ाई कर रही लड़की अपने दोस्त के साथ दिल्ली के मुनीरका से द्वारका इलाके अपने घर जा रही थी। बस में सवार लड़कों ने पहले लड़की के साथ छेड़छाड़ की। जब लड़की और उसके दोस्त ने विरोध किया तो उनके साथ मारपीट की गई। इसके बाद ड्राईवर समेत पांच लोगों ने चलती बस में लड़की के साथ बलात्कार किया। रात करीब सवा दस बजे पुलिस को सूचना मिली जब बुरी तरह से घायल लड़की और लड़के को करीब के अस्पताल में भर्ती किया गया।

घटना के बाद दिल्ली की समाज कल्याण मंत्री किरण वालिया ने कहा कि जल्दी ही यहां की सभी बसों में सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे। राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष ममता शर्मा ने सरकार और पुलिस पर सवाल खड़े किए हैं। उन्होंने कहा कि ऐसे घनी आबादी वाले इलाके में ऐसी घटनाएं होने का मतलब है कि पुलिस और सरकार चौकन्नी नहीं है। दिल्ली की मुख्यमंत्री शीला दीक्षित ने बस का लाइसेंस रद्द कर दिया है। इसके अलावा दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने का भरोसा दिया है। संसद में भी बहुत से नेताओं ने इस घटना को उठाया और दिल्ली की सुरक्षा व्यवस्था की कड़ी निंदा की।

(फोटो साभार: रमेश लालवानी, विकिपीडिया)