घरों में आया पानी चित्रकूट के मानिकपुर कसबे के इंद्रानगर मोहल्ले में हर बरसात आती है ये मुसीबत

जिला चित्रकूट, ब्लाक मानिकपुर, क़स्बा मानिकपुर के इंद्रा नगर मुहल्माला हर साल के जइसे या साल भी पुरनिहा तालाब मा बाढ़ आवै के कारन हुवा के मड़ई आपन घर छोड़ै का मजबूर हवै। अगर एक नाला बन जाये तौ मड़इन के समस्या ख़तम होइ सकत हवै। मड़ई नाला बनवावै खातिर मानिकपुर टाउन एरिया मा भी कइयौ दरकी कहिन,पै कउनौ सुनवाई नहीं भे आय।
राजकली का कहब हवै कि रोजै के खाये कमाये वाले मड़ई आहीं मोर कच्चा घर बना हवै। पुरनिहा तालाब मा हर साल बाढ़ आ जात हवै यहिसे घर गिर जात हवै। बरसात का पानी निकरै खाितर नाला बन जाये तौ हमार या समस्या ख़तम होइ सकत हवै। जेहिसे नाला मा पूर पानी बहिके चला जई।
यहिनतान दुर्गा कहिस कि एक दरकी तौ घर बनावै मा लोगन का ख़ून पसीना एक होइ जात हवै। हर साल कबै तक बनात रहिबे,पै हम गरीबन के सुनै वाला कउनौ नहीं आय।
विजय का कहब हवै कि यहिनतान बाढ़ आ गे रहै तौ आपन घर छोड़ के जाये का परा रहै अगर यहिनतान हर साल होत रही तौ हमार तौ हर सामान ख़राब होत रही।
बबीना कहिस कि हमका हर साल बाढ़ आवत हवै। यहिसे आपन बुआ के घर जा के रहै का परत हवै।
विनोद कुमार कहिस कि बाढ़ आवै के कारन बच्चें डूब जात हवै पिछले साल एक लड़का डूब के मरगा रहै मानिकपुर टाउन एरिया के बाबू राधे श्याम कहिन कि आवास बनत हवै बन जइहै तौ लोगन का दीन जइहै
14/07/2016 को प्रकाशित
घरों में आया तालाब का पानी
चित्रकूट के मानिकपुर कसबे के इंद्रानगर मोहल्ले में हर बरसात आती है ये मुसीबत