गौरी लंकेश हत्याकांड में सनातन संस्था का नाम सामने आया

फोटो साभार: फेसबुक/गौरी

पत्रकार गौरी लंकेश हत्याकांड मामले में दक्षिणपंथी संगठन सनातन संस्था का नाम सामने आया है। एक अंग्रेजी अख़बार की खबर के अनुसार, इस मामले के लिए बनायीं गई विशेष जाँच टीम ने बताया कि जांच में इस संगठन के पांच सदस्यों के गौरी की हत्या में शामिल होने का पता लगा है। इनमें चार के खिलाफ इंटरपोल ने साल 2009 के मडगांव ब्लास्ट मामले में रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया हुआ है।
पांच सितबंर, 2017 को गौरी लंकेश की हत्या उनके बेंगलुरू स्थित निजी आवास के बाहर कर दी गई थी। इससे पहले सामाजिक कार्यकर्ता गोविंद पंसारे की हत्या के मामले में भी गोवा स्थित इस संगठन का नाम उछला था।
वहीं दूसरी तरफ, पत्रकार गौरी लंकेश को मरणोपरांत प्रतिष्ठित अन्ना पोलितकोवस्काया अवॉर्ड दिया जाएगा।
गौरी लंकेश से पहले 11 महिलाओं को यह प्रतिष्ठित अवॉर्ड मिल चुका है। गौरी इस अवॉर्ड को पाने वाली पहली भारतीय महिला हैं। इस अवॉर्ड के ऐलान के साथ लंदन की संस्था रीच ऑल विमिन इन वॉर (रॉ इन वॉर) ने अपनी वेबसाइट पर लिखा कि वरिष्ठ भारतीय पत्रकार और सामाजिक कार्यकर्ता गौरी लंकेश अन्ना पोलितकोवस्काया जैसी थीं।
गौरी लंकेश की बहन कविता ने कहा है कि इस अवॉर्ड से उन सभी पत्रकारों का हौसला बढ़ता है, जो समाज के लिए लिखना और संघर्ष करना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि गौरी इस बात का प्रतीक थीं कि उन्हें चुप नहीं कराया जा सकता। यह अवॉर्ड उनके इसी नजरिए का सम्मान है।