गोद लीने गांवन के हाल बेहाल हवैं

कालोनी बिजली अउर सड़क भी इनतान हवैं

तीन साल पहिले बुन्देलखण्ड क्षेत्र के कइयौ गांवन का सांसद गोद लिहिन हवैं। जेहिसे उंई गांवन का आदर्श सम्रग गांव बना सकैं।पै वहिसे नीक तौ बिना गोद लीने गांवन मा हरतान के सुविधा देखै का मिलत हवै। अउर गोद लीन गांव तौ अपाहिज बन गें हवै प्रधान कहत सांसद के पास बजट नहीं आय तौ कउन फायदा गोद लीने कउन यहिके बारे मा जवाब देइ?  हन्ना गांव के हाल देखै तों सड़क ख़राब पड़ी हवै तौ कत्तौ मड़ई बिजली अउर पानी का रोवत हवैं। का यहिनतान से आदर्श सम्रग गांव होत हवै? अगर काम नहीं करवाये का तौ नाम खातिर गोद लीन जात हवै का? मड़ई सोचत रहैं कि हमार गांव का सांसद गोद लीने हवै तौ गांव चमचमा जई पै सब पानी मा चला गा जउन काम होय का भी रहै वा भी आदर्श गांव के नाम से नहीं होत आय? प्रधान कहत हवै मैं का करौं। मोर पहुच नहीं आय सांसद जानै का गरीब जनता यहिनतान मरत रही आउर नेता मंत्री मजा लेत रही हैं? का गांव के विकास खातिर बजट नहीं आय तीन साल मा। बादा जिला के कटरा कालिंजर का भी सांसद गोद लिने हवै, पै वा गांव मा भी कउनो विकास नहीं भा आये हुआ के मडइन का कहब हवै कि हमरे हियां शौचालय बनवावे खातिर सांसद कहिन रहै पै आज तक गांव मा कुछ भी सुविधा नहीं भे आये। सांसद भैरों प्रसाद का कहब हवै कि 2014 मा गोद लीने रहै। बांदा कालिंजर चित्रकूट का हन्ना जेहिमा कालिंजर मा काम भा हवै एक हिस्सा होइ चुका हवै। शौचालय, बिजली, सड़क अउर कालोनी बनी हवैं। चित्रकूट जिला के हन्ना बिनैका मा दुइ महीना पहिले लालतारोड से सिरावल तक सड़क बनी हवैं कुछ बिजली कनेक्शन भे हवैं। कालोनी लगभग ढाई सौ आये हवैं। सांसद तौ सब कुछ नीक नीक बताइस पै गांवन मा जा के देखै तौ पता लागत हवै कि कुछ काम नहीं भा आय। सांसद का तो बजट अउर केत्ता काम भा वहिके आकड़ा भी नहीं पता आय? तौ सांसद कउन विकास के बारे मा कहत हवै? का यहितान मा विकास होइ।